दिल्ली हाई कोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश ने दावा किया हैं कि 2019 में भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित कर दिया जाएगा. एक वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में उनहोंने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) 2019 में भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित करवाएगा.

देश में मुस्लिमों पर हो रहे हमलें को लेकर उन्होंने कहा कि “मुसलमानों के खिलाफ नफरत से उपजी हिंसा के मामले बढ़े हैं और ये केवल असहिष्णुता का मामला नहीं है. ये असहिष्णुता से बुरी चीज है. सच तो ये है कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की जीत के बाद ये खतरा और बढ़ गया है.

Loading...

रेडिफ डॉट कॉम से बातचीत में उन्होंने कहा, सबसे खतरनाक संकेत योगी आदित्य नाथ को यूपी का सीएम बनाया जाना है. ये आरएसएस की सोची-समझी योजना का हिस्सा है. हमें भूलना नहीं चाहिए कि नरेंद्र मोदी केवल चेहरा हैं.” उन्होंने आगे कहा, “आरएसएस तय कर चुका है कि 2019 में भाजपा की सत्ता में वापसी के बाद वो भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित करवाएगा. मुझे लगता है कि विपक्षी पार्टियां इस खतरे को भांप नहीं पा रही हैं.

जस्टिस सच्चर ने कहा कि 2019 के लोक सभा चुनाव से पहले योगी आदित्य नाथ को मुख्यमंत्री बनाने के संकेत को सावधानी से पढ़ना चाहिए. सच्चर ने कहा कि सारे हिंदुओं का आरएसएस से कोई लेना-देना नहीं. हिंदुओं की अलग-अलग संस्कृति, परंपरा और खान-पान की आदतें हैं. जस्टिस सच्चर के अनुसार आरएसएस उत्तर प्रदेश में मिली जीत के बाद पहले से ज्यादा ताकतवर हो गया है.

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें