mla

mla

मथुरा । विकास कार्यों में ढिलाई को लेकर अब जनता का ग़ुस्सा फूटने लगा है। इस ग़ुस्से का शिकार प्रशासन के साथ साथ जनप्रतिनिधियो को भी होना पड़ रहा है। इसकी एक बानगी मथुरा में देखनी को मिली जहाँ एक भाजपा विधायक को भीड़ के ग़ुस्से का शिकार होना पड़ा। वो तो विधायक जी सही समय पर वहाँ से निकल गए नही तो उनके साथ हाथापाई भी हो सकती थी। हालाँकि भीड़ ने उनकी गाड़ी का पीछा भी किया।

जनता के रिपोर्टर के अनुसार मथुरा के फ़रह-बेरी मार्ग पर स्थित धर्मपुर पुलिया काफ़ी दिनो से जर्जर हालत में थी। शनिवार को जब एक बाइक सवार अपने परिवार के साथ इस पुलिया से गुज़रा तो वह रजवाहे में जा गिरा। इस घटना में बाइक सवार समेत सभी लोगों की डूबने से मौत हो गयी। बाइक पर दम्पत्ति के अलावा उसका दो साल का बेटा और एक छह साल की भांजी सवार थी।

फ़िलहाल महिला और उसके बेटे का शव बरामद हो चुका है। जबकि युवक और उसकी भांजी का अभी तक कोई सुराग़ नही लगा। जब इस घटना की सूचना यहाँ के स्थानीय भाजपा विधायक पूरन प्रकाश को लगी तो वह तुरंत घटना स्थल पर पहुँचे। इस दौरान उनके साथ उनका सुरक्षाकर्मी भी मौजूद था। लेकिन जैसे ही विधायक जी मौक़े पर पहुँहे, उनको देखकर वहाँ एकत्र भीड़ उखड गयी और उनके ख़िलाफ़ नारेबाज़ी करने लगी।

लोगों में इतना आक्रोश था की उन्होंने विधायक जी के सुरक्षाकर्मी के साथ हाथापाई भी की। यही नही भीड़ ने विधायक को ख़ूब खरी खोटी सुनाई उन पर भी हमला करने की कोशिश की गयी । क़रीब दो घंटे तक यह हंगामा चलता रहा। अंत में विधायक जी वहाँ से भाग निकले। लोगों में इस बात का आक्रोश था की विकास कार्य के लिए कोई भी नेता नही आता लेकिन जब कोई हादसा हो जाता है तो ये लोग अपनी राजनीति चमकाने के लिए चले आते है।

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?