लॉकडाउन की मार झेल रहे प्रवासी मजदूर अपने घरों को पहुँचना चाहते है। लेकिन इन लोगो की मुश्किलें कम होने का नाम नही ले रही। ताजा मामला महाराष्ट्र का है। जहां प्रवासियों ने यूपी स्थित घर-गांव जाने के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेन पकड़ी थी। लेकिन ये उडीसा पहुंचा दिये गए।

जनसत्ता के अनुसार, इन लोगों को उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जाना था, मगर वे ओडिशा के राउरकेला पहुंचा दिए गए। ऐसा हुआ, ट्रेन के लोकोपायलट के रास्ता भूल जाने की वजह से। गाड़ी जब ओडिशा पहुंची और वहां यात्रियों को इस बात का पता लगा तो हैरान रह गए। कुछ ने आपत्ति जताई, जबकि कुछ ने अपनी समस्या का वीडियो रिकॉर्ड कर सोशल मीडिया पर पोस्ट किया।

ऐसे ही एक यात्री का वायरल वीडियो Congress नेता आरपीएन सिंह ने टि्वटर पर शेयर किया। उन्होंने लिखा- मुंबई से गोरखपुर जाने वाली श्रमिक स्पेशल ओडिशा जा पहुंची, क्योंकि ड्राइवर (लोकोपायलट) रास्ता ही भूल गया। मौजूदा सरकार की रणनीति में कोई भी समानता विशुद्ध रूप से संयोग है। उम्मीद है कि थके-हारे यात्री सही सलामत घर पहुंच गए होंगे।

सिंह ने इस ट्वीट के साथ जो वायरल वीडियो क्लिप शेयर की थी, उसमें उक्त ट्रेन में बैठे एक यात्री ने बताया था, “मुंबई से हमने गाड़ी पकड़ी थी गोरखपुर जाने के लिए। पर ड्राइवर ने ओडिशा में लाकर खड़ाकर दिया। अब हम कैसे जाएंगे? क्या करेंगे? हम बहुत परेशानी में हैं। ड्राइवर रास्ता भूल गया है, बता रहे हैं।”

अगले ट्वीट में कांग्रेसी नेता ने लिखा- मान्यवर रेल मंत्रालय, प्रेस कांफ्रेंस करने के लिए आपका धन्यवाद। ये ट्रेन 21 मई को लगभग 7:30 PM बजे मुम्बई से गोरखपुर के लिए चली थी और आज 23 मई को 6 PM पर बिहार में है। थके,निराश और भूखे प्रवासी श्रमिक भाई जल्दी अपने घर जाना चाहते हैं लेकिन आपलोग उन्हें और अधिक कष्ट दे रहें हैं।

Loading...
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano
विज्ञापन