Tuesday, December 7, 2021

मक्का मस्जिद ब्लास्ट केस: NIA वकील को नहीं था अनुभव, ABVP से रह चूका रिश्ता

- Advertisement -

हैदराबाद की ऐतहासिक मक्का मस्जिद ब्लास्ट मामले में मुख्य आरोपी स्वामी असीमानंद सहित सभी 5 आरोपियों को बरी करने वाले एनआईए स्पेशल कोर्ट के जज रवींद्र रेड्डी द्वारा इस्तीफा देने के बाद इस मामले में बड़ा खुलासा हुआ है.

2015 से केस की पैरवी कर रहे एनआईए के वकील एन हरिनाथ को आपराधिक मामलों का कोई अनुभव नहीं था. बावजूद उन्हें स्पेशल पब्लिक प्रोसिक्यूटर बनाया गया. इसके अलावा NIA के वकील एन हरिनाथ कभी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से भी जुड़े थे.

बता दें कि 18 मई 2007 को हुए इस ब्लास्ट में 9 मारे गए थे जबकि 58 घायल हुए थे. बाद में प्रदर्शनकारियों पर हुई पुलिस फायरिंग में भी कुछ लोग मारे गए थे. इस्तीफ़ा देने के बाद  जज रवींद्र रेड्डी की सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

mecca

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार जज रेड्डी ने इस्तीफे को लेकर कहा है कि उन्होंने इस्तीफ़ा निजी कारणों से दिया है और इसका मक्का मस्जिद में धमाके के फ़ैसले से कोई संबंध नहीं है. बता दें कि रेड्डी ने सभी आरोपियों को सबूतों के अभाव में बरी किया.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘फैसले के परिप्रेक्ष्य में उनके आवास पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है. उन्होंने कहा कि कुछ समय तक उनकी सुरक्षा बढ़ी रहेगी.  अधिकारी ने कहा, ‘… कोई विशिष्ट अलर्ट नहीं है लेकिन फैसले के बाद से ही उनके घर के आसपास सुरक्षा बढ़ी हुई है.’

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles