इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल (आईएमसी) के अध्यक्ष मौलाना तौकीर रज़ा को आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड में सदस्य बनाया गया है. हालांकि उन्होंने बिना जानकारी के सदस्य बनाने पर नाराजगी जाहिर की है.

उन्होंने मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के चेयरमेन राबेह हसनी नदवी को पत्र लिखकर नाराजगी जाहिर की. उन्होंने लिखा कि मुझे बड़े अफ़सोस के साथ लिखना पड़ रहा है कि मेरी जानकारी के बगैर मुझे मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड का सदस्य कैसे बना दिया गया है.

मौलाना तौकीर रज़ा ने कहा, जिम्मेदार बोर्ड होने के नाते मुझसे सदस्यता के मसले पर कोई चर्चा नहीं की गई और ना ही मशविरा किया गया बल्कि गुप्त तरीके से बोर्ड की वेबसाइट पर मेरा नाम बोर्ड के सदस्यों की सूची में शामिल कर लिया गया.

उन्होंने बताया, उन्हें इस बात की जानकारी किसी और से मिली, जिसने उन्हें फोन कर ये जानकारी दी. साथ ही बोर्ड सदस्य के रूप में उनका नाम वेबसाईट पर दर्ज होने के स्क्रीनशोर्ट दिए. उन्होंने कहा, मेरी बिना जानकारी के मुझे सदस्य बना देना किसी भी तरह से मुनासिब नहीं है.

मौलाना तौकीर रज़ा ने कहा, मुझे आपसे उम्मीद है कि आप इस मसले पर यकीनन गौर करेंगे और मेरा नाम बोर्ड के पैनल और वेबसाइट से जल्द ही हटा देंगे.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें