मौलाना अरशद मदनी

मुस्लिम राजनीतिक पार्टियों के प्रमुखों को बीजेपी का एजेंट करार देना एक दस्तूर हो चूका है. जिसके चलते मुस्लिम कौम अपनी कयादत से दूर होती जा रही है.

इसी बीच अब जमीयत उलमा ए हिन्द के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना अरशद मदनी ने असम के मशहूर नेता और ऑल इंडिया यूनाईटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (AIUDF) के सुप्रिमो मौलाना बदरुद्दीन अजमल पर गंभीर आरोप लगाते हुए बीजेपी का एजेंट करार दिया.

मौलाना बदरुद्दीन अजमल

मौलाना अरशद मदनी ने बदरुद्दीन अजमल को डरपोक बताते हुए कहा कि ‘वे भाजपा के हामी हैं और एक डरपोक आदमी हैं.’ ध्यान रहे मौलाना बदरुद्दीन अजमल असम की ढुबरी की लोकसभा सीट से सांसद है. वह खुद जमीयत उलमा ए हिन्द के असम राज्य के प्रेसिडेंट रह चुके है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

2015-16 में अजमल को दुनिया के 500 प्रभावशाली लोगो में शामिल किया गया था. 2006 में उनकी पार्टी ने विधानसभा की 10 सीटें जीती थी. साथ वे सरकार में हिस्सा थे. वहीँ 2011 में 11 सीटें जीतकर बड़े विपक्ष के रूप में उभरे है.

ass1

Loading...