anza1

anza1

आतंक के आरोपों से दिल्ली की एक अदालत द्वारा बरी किये गए मौलाना अंजर शाह को आज जेल से रिहाई मिल गई है. उनकी रिहाई का फैसला 17 अक्टूबर को ही आ गया था, लेकिन दिवाली सहित सार्वजानिक अवकाशों के कारण रिहाई नहीं हो पाई थी.

जमीअत उलेमा ए हिंद के प्रेस सचिव मौलाना फजलुर्रहमान ने बताया कि आज सोमवार को 12 बजे जेल प्रशासन ने उन्हें रिहा कर दिया. ध्यान रहे लश्कर से सबंध के आरोप में जनवरी 2016 में कर्नाटक की राजधानी बंगलौर से उन्हें गिरफ्तार किया गया था.

गिरफ्तारी के दौरान पुलिस ने दावा किया था कि अंजार शाह साउथ इंडिया में ‘अल कायदा इन इंडियन सब-कॉन्टिनेंट’ का सबसे बड़े नेता है. यह संगठन बांग्लादेश की कट्टरपंथी तंजीम ‘अंसार अल इस्लाम’ के सम्पर्क में था. हालांकि पुलिस इन आरोपों को अदालत में साबित नहीं कर पाई.

शाह के वकील एम.एस. खान के अनुसार, दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश सिद्धार्थ शर्मा ने मामले में सभी आरोपों से मौलाना कास्मी को बरी कर दिया.

वकील के अनुसार, जबकि मौलाना कासिम को सभी मामलों से बरी कर दिया गया है, वहीं चार अन्य आरोपियों को मुकदमा का सामना करना होगा.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?