modi and amit shah

देश के मौजूदा सांसदों-विधायकों में हर पांचवां नेता क्रिमिनल और किडनैपर है। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है।

रिपोर्ट के मुताबिक ऐसे अपराधी नेताओं के मामले में भाजपा नंबर वन पर है तो दूसरे स्थान पर काँग्रेस है। हालांकि ये दोनों ही पार्टियां अपराध मुक्त का दावा करती है। संस्था के मुताबिक उसने वर्तमान 4,856 सांसदों-विधायकों के हलफनामों का अध्ययन किया है। इनमें 770 सांसद और 4,086 विधायक शामिल हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एडीआर के मुताबिक इनमें 1,024 सांसदों-विधायकों (कुल संख्या का 21%) ने अपने खिलाफ गंभीर अपराध दर्ज होने की बात स्वीकार की है। इन 1024 में से 6 फीसदी यानी 64 जन प्रतिनिधियों के खिलाफ अपहरण के मामले दर्ज हैं। इनमें 56 विधायक और 8 सांसद शामिल हैं।

एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक बिहार और उत्तर प्रदेश के विधायकों पर सबसे ज्यादा अपहरण के मुकदमें चल रहे हैं। इन दोनों राज्यों के 9-9 विधायकों के ऊपर अपहरण करने का मामला दर्ज किया गया है। दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र है, जिसके 8 विधायकों के खिलाफ अपहरण के केस चल रहे हैं।

इसके बाद पश्चिम बंगाल, ओडिशा, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, गुजरात, राजस्थान, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, कर्नाटक, केरल, पंजाब और तेलंगाना का नंबर है।  एडीआर और एनईडब्ल्यू की रिपोर्ट में लोकसभा के 5 और राज्यसभा के 3 सांसदों ने अपने खिलाफ दर्ज अपहरण के मामले घोषित किए हैं।

Loading...