पणजी। रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. वह गोवा के नए मुख्‍यमंत्री होंगे. गोवा की राज्यपाल मदुला सिन्हा ने रविवार को भाजपा के मनोहर पर्रिकर को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया है. गोवा की 40 सीटों में से 13 पर जीत हासिल करने वाली बीजेपी के नेताओं ने पर्रिकर के नेतृत्व में गवर्नर से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया है. पार्टी नेताओं ने गवर्नर को 21 विधायकों के समर्थन का पत्र सौंपा है.

मनोहर पर्रिकर ने कहा कि हालांकि हम बहुमत तक नहीं पहुंच पाए थे, लेकिन एक साथ आकर हमने 21 का जादुई आंकड़ा हासिल कर लिया. गोवा की बीजेपी यूनिट के अध्यक्ष विनय तेंडुलकर ने कहा, ‘हमने गवर्नर मृदुला सिन्हा से मिलकर नंबर पूरे होने की बात कही है और सरकार बनाने का दावा पेश किया है.’ पर्रिकर ने कहा कि राज्यपाल का आमंत्रण मिलते ही सहयोगियों से बात कर शपथग्रहण की तारीख तय की जाएगी.

गोवा के पर्यवेक्षक के तौर पर दिल्ली से भेजे गए नितिन गडकरी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा, ‘हमें दिल्ली में उनकी (पर्रिकर की) कमी खलेगी, लेकिन गोवा के हित को लेकर जब हमने बात की तो उन्होंने कहा कि जो पार्टी कहेगी, मैं वह करूंगा. भाजपा के तीन नव निर्वाचित विधायकों ने रविवार को कहा कि अगर छोटे दल राज्य में पार्टी का समर्थन करते हैं तो रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर सरकार का नेतत्व करें.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

MGP के नेता सुधीर ढवलीकर ने मीडियाकर्मियों से बातचीत में कहा था कि वे बीजेपी को सत्ता में लाने के लिए तभी समर्थन दे सकते हैं जब रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर को गोवा के मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी दी जाए. MGP के 3 विधायक चुनकर आए हैं. ढवलीकर गोवा में मीडियाकर्मियों से बात कर रहे थे. उन्होंने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को ख़त लिखकर अपनी बात स्पष्ट कर दी थी.

Loading...