राजधानी दिल्ली में लगातार कोरोना के मामले बढ़ रहे है। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली सरकार मास्क नहीं लगाने वालों के खिलाफ जुर्माना भी बढ़ाती जा रही है। दिल्ली सरकार ने बिना मास्क घूमने वालों पर 2000 रुपए का जुर्माना लगाना शुरू कर दिया है। लेकिन इस पर खुद उपमुख्यमंत्री ही अमल नहीं कर रहे है।

बीजेपी ने उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया एक शादी समारोह में बिना मास्क लगाए शामिल होने की तस्वीरें जारी की है।साथ ही पूछा कि इनका चालान कटेगा या भी या नहीं, क्या उपमुख्यमंत्री नियमों से ऊपर हैं।

दिल्ली बीजेपी ने तस्वीरें ट्वीट कर लिखा, “CM साहब, यह आपकी सरकार में उपमुख्यमंत्री हैं, और यह कल की तस्वीर हैं। ना मास्क है ना सोशल डिस्टेंसिंग। लेकिन इनका चालान नहीं कटेगा क्यूँकि आप और आपके नेता खुद को क़ानून से ऊपर समझते हैं। चालान केवल जनता भरेगी और आप उस पैसे से विज्ञापन देंगे।”

वहीं पश्चिम दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से बीजेपी सांसद प्रवेश साहिब सिंह ने ट्वीट कर पूछा “ये दिल्ली के उपमुख्यमंत्री ये उदाहरण हैं या बीमारी हैं? किसी एक ने मास्क नहीं लगा रखा इन पर 2000 रू का जुर्माना होगा?! ये खुद के बनाए नियमों से ऊपर हैं?!”
दूसरी और डिप्टी सीएम और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा है कि जब तक वैक्सीन नहीं तब तक स्कूल नहीं। सिसोदिया ने कहा है कि इस वक्त स्कूल शुरू करना बच्चों को कोरोना की तरफ ढकेलना जैसा होगा।
सिसोदिया ने कहा है, “दिल्ली में अभी स्कूल खुलने की परिस्थिति नहीं लग रही है। उन्होंने कहा कि अभी स्कूल खोलने का मतलब है कि अपने बहुत सारे बच्चों को कोरोना की तरफ़ ढकेल देना, वो ना आप चाहेंगे ना मैं चाहूंगा, न कोई चाहेगा।”
Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano