टिकरी बॉर्डर पर किसानों के विरोध में शामिल होने के लिए जा रहे एक 65 वर्षीय व्यक्ति की शनिवार रात उसकी कार में आग लगने से मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि मृतक जनक राज एक मैकेनिक था और दिल्ली जाने के लिए अपने किसान मित्रों में शामिल हो गया था।

मृतक पंजाब के बरनाला जिले के धनोला गांव का रहने वाला था। आग लगने के दौरान वह अपनी कार में सो रहा था। यह घटना बहादुरगढ़ के नजफगढ़ रोड फ्लाईओवर पर हुई जहां राज और उनके दोस्त रात में आराम कर रहे थे। आग की लपटें इतनी विकराल थी कि कार को आग का गोला बनते देर नहीं लगी।

पुलिस अधीक्षक (झज्जर) राजेश दुग्गल ने कहा, “किसानों ने हमें बताया कि वे रात 11:30 बजे बहादुरगढ़ में रुक गए क्योंकि उनके एक ट्रैक्टर की मरम्मत की जरूरत थी। कुछ समय बाद, राज अपनी स्विफ्ट कार के अंदर सोने चला गया। लगभग 1:30 बजे, कार में आग लग गई और उसकी कार में ही मौत हो गई”

राज के दोस्त – हरप्रीत, गुरप्रीत और गुरजंत ने आग बुझाने की कोशिश की और पुलिस को भी फोन किया लेकिन उनके दोस्त की कार के अंदर ही मौत हो गई। पुलिस ने कहा कि उन्होंने घटनास्थल का निरीक्षण किया और किसी भी प्रकार का संदेह नहीं है।

झज्जर पुलिस ने रविवार को एक ट्वीट किया, जिसमें कहा गया कि कार के अंदर शॉर्ट सर्किट था, जिससे आग लगी। हमने किसानों से बात की, उन्होंने कहा कि वे अपने ट्रैक्टर में सो रहे थे जब कार में आग लग गई। उन्होंने आग बुझाने में मदद करने की भी कोशिश की। ”

स्थानीय अपराध टीम ने भी घटनास्थल का निरीक्षण किया और नमूने एकत्र किए हैं। पुलिस ने कहा कि वे इस मामले को देखेंगे। मृतक के परिवार को सूचित कर दिया गया है, वे बहादुरगढ़ के रास्ते में हैं।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano