कोलकाता | पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दुर्गा पूजा से पहले आरएसएस और उससे जुड़े संगठनो को चेताते हुए कहा की वो प्रदेश का माहौल बिगाड़ने का प्रयास न करे. ऐसा करना आग के साथ खेलने जैसा होगा. ममता बनर्जी ने उन खबरों का भी खंडन किया जिसमे कहा गया था की बंगाल सरकार ने विजयदशमी मनाने पर रोक लगा दी है. ममता ने इस तरह की खबरों को अफवाह करार दिया और इसे कुछ संगठनो की साजिश बताया.

रविवार को ममता बनर्जी ने अपने अंदाज में आरएसएस और उससे जुड़े संगठन, बजरंग दल और विश्व हिन्दू परिषद को चेतावनी भरे लहजे में कहा की वो दुर्गा पूजा पर प्रदेश का माहौल बिगड़ने की कोशिश न करे. बंगाल में दुर्गा पूजा परस्पर सोहार्द और शांत के साथ मनाई जाती है. इस दिन लाखो लोग सडको पर उतरकर इस उत्सव को मनाते है. ऐसे में हम किसी भी तत्व को माहौल ख़राब करने की इजाजत नही देंगे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ममता ने बताया की हमने विजयदशमी मनाने पर रोक नही लगाई. यह त्यौहार पहले की तरह बंगाल में मनाया जाएगा. कुछ संगठन गलत अफवाह फैला रहे है की हम पंडालो और घरो में इस त्यौहार को मनाने से रोक रहे है. ये वो लोग है जो बंगाल को नही जानते. हमने केवल एक अक्टूबर को प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगाई है क्योकि उस दिन मोहर्रम भी साथ पड़ रहा है. दो अक्टूबर से प्रतिमा विसर्जन दोबारा की जा सकती है.

ममता ने आगे कहा की उनकी सरकार आगामी दुर्गापूजा त्योहार के दौरान शांति और सौहार्द बनाए रखने के लिए संकल्पबद्ध है. हम किसी भी संगठन को विजयदशमी के दिन हथियारों के साथ प्रतिमा विसर्जन नही करने देंगे. क्योकि यह अवैध है. अगर वो ऐसा करते है तो उनके साथ कड़ाई से निपटा जायेगा और उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी. बताते चले की विश्व हिन्दू परिषद ने एलान किया है की वो पुरे राज्य में शस्त्र पूजा करेंगे.

Loading...