कोलकाता | पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री मोदी के लिए बेहद ही आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया है. एक रैली को संबोधित करते हुए ममता ने मोदी की तुलना ‘चूहे’ से करते हुए कहा की हम चूहों से नही डरते, हमने तो शेरो के खिलाफ भी लड़ाई लड़ी है. ममता से पहले उनकी ही पार्टी के एक सांसद भी मोदी को चूहा बता चुके है.

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया के कोलकाता कार्यालय के बाहर प्रदर्शन कर रहे तृणमूल कार्यकर्ताओ को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने मोदी पर कड़ा प्रहार किया. उन्होंने मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल करते हुए कहा की वो सोचते है की तृणमूल कांग्रेस को आसानी से उखाड़ देंगे. हम नरम मिटटी पर नही खड़े जो उखाड़ देंगे.

ममता ने मोदी को ललकारते हुए कहा की हम उपजाऊ जमीन पर ठोस तरीके से खड़े है. नरम मिटटी को तो चूहे भी खोद देते है और हम चूहों से नही डरते. हम तो शेरो के खिलाफ भी लड़ते है. ममता ने पेटीएम् का जिक्र करते हुए कहा की मोदी जी एक ऐसी कंपनी के सेल्स मैन बन गए है जिसमे 40 फीसदी चीनी कंपनी के शेयर है. नोट बंदी करके उन्होंने जो घोटाला किया है उसका पता तब ही चल सकता है जब वो अपने पद पर नही रहेगे.

ममता ने मोदी पर आरोप लगाया की वो अपने कार्यालय से जरुरी फाइल हटा रहे है. ममता ने कहा की नोट बंदी कुछ नही बल्कि काले धन को सफ़ेद करने का माध्यम है. इससे पहले तृणमूल सांसद कल्याण बनर्जी भी मोदी के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल कर चुके है. आरबीआई कार्यालय के बाहर ही उन्होंने कहा था की नोट बंदी के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शन मोदी को चूहे के बच्चे की तरह गुजरात वापिस भेज देगा.

कल्याण बनर्जी के खिलाफ बंगाल बीजेपी ने कोलकाता के थाने में शिकायत दर्ज कराई है. बीजेपी ने मांग की है की पुलिस को कल्याण बनर्जी के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें