mamata-l

कोलकाता | पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी नोट बंदी के बाद से ही प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी पर हमलावर है. ममता बनर्जी जगह जगह रैली कर लोगो को नोट बंदी के नुक्सान बता रही है और केंद्र सरकार पर गरीबो को परेशान करने का आरोप लगा रही है. लेकिन मंगलवार को ममता बनर्जी ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ मोर्चा खोला.

ममता बनर्जी ने ट्वीट कर मोदी सरकार से पुछा की अमित शाह और कुछ अन्य लोगो के खिलाफ छापेमारी कब होगी? ममता बनर्जी ने एक के बाद एक ट्वीट कर मोदी सरकार और राष्ट्रिय अध्यक्ष पर निशाना साधा. ममता बनर्जी ने कहा की जो लोग धन जमा कर रहे है उनके खिलाफ छापेमारी क्यों नही होती? ममता बनर्जी , तमिलनाडु के मुख्य सचिव के यहाँ आयकर विभाग की छापेमारी से नाराज दिखी.

ममता बनर्जी ने आगे लिखा की पहले अरविन्द केजरीवाल के प्रधान सचिव के यहाँ छापा पड़ता है , आज मैंने पढ़ा की तमिलनाडु के प्रधान सचिव राम मोहन राव के घर छापे पड़े. सिर्फ विरोधी दलों को ही क्यों निशाना बनाया जा रहा है, केवल गैर बीजेपी शासित राज्य ही राडार पर है. यह अनैतिक और गलत कदम है, इससे लोकतांत्रित ढाँचे को नुक्सान नही होगा?

ममता बनर्जी ने प्रशासनिक अधिकारियो पर छापेमारी से पहले राज्य सरकार को भरोसे में लेने को जरुरी बताते हुए कहा की इस तरह के छापो से देश में प्रशासनिक संस्थाओ की छवि खराब होती है. छापेमारी से पहले राज्य सरकार को भरोसे में ले और मुख्य सचिव को पद से हटाने के बाद ही कोई कार्यवाही हो. इससे पहले अमित शाह ने शाजहंपुर रैली में ममता बनर्जी को निशाने पर लेते हुए कहा की नोट बंदी से ममता का रंग उड़ गया है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें