नई दिल्ली  मालदा में हुई हिंसा के बहाने केंद्र में मौजूद एनडीए सरकार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमलावर नहीं होने जा रही है। बीजेपी द्वारा की गई मांग पर केंद्र पश्चिम बंगाल में मालदा हिंसा की जांच के लिए कोई भी ऑफिशल टीम नहीं भेजेगा।

मालदा में हुई हिंसा में प्रदर्शनकारियों के समूह ने पुलिस स्टेशन में आग लगा दी थी और कई वाहनों को नुकसान पहुंचाया था जिससे इलाके में तनाव फैल गया था। केंद्र सरकार ने फैसला किया है कि वह इसकी किसी भी जांच के लिए कोई टीम नहीं भेजेगी।

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा, ‘इस समय कोई भी केंद्रीय टीम वहां का दौरा नहीं करेगी। लॉ ऐंड ऑर्डर एक राज्य का विषय है इसलिए बंगाल सरकार खुद ही इस स्थिति को देखेगी।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बीजेपी का तीन सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को गृह मंत्री से मिला था और उसने मालदा हिंसा की जांच के लिए एक उच्च स्तरीय कमिटी गठित करने की मांग की थी। प्रतिनिधिमंडल का कहना था कि इस हिंसा का संबंध नकली मुद्रा, नशीले पदार्थों की तस्करी और घुसपैठ से था। साभार: नवभारत टाइम्स

Loading...