Saturday, September 18, 2021

 

 

 

‘मेक इन इंडिया’ के लिए मोदी ने की थी तारीफ़, उसी इंजीनियर ने छापे 2 करोड़ के नए नकली नोट

- Advertisement -
- Advertisement -

abhi

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ‘मेक इन इंडिया’ में सहयोग करने के लिए जिस इंजीनियर की तारीफ की थी. उसी इंजीनियर ने पीएम मोदी के कालेधन की सफाई को लेकर चलाई जा रही नोटबंदी की मुहीम को बट्टा लगाते हुए 2 करोड़ के नकली नोट चाप डाले. वो भी 2000 रु के नए नोट में.

पंजाब पुलिस ने इंजीनियर अभिवन वर्मा को नकली नोट  छापने के जुर्म में गिरफ्तार किया है. पुलिस ने उसके पास से 42 लाख की कीमत के 2 हज़ार के नकली नोट भी बरामद किये हैं. अभिनव के अलावा विशाखा एमबीए स्टूडेंट है और सुमन नागपाल एक प्रॉपर्टी डीलर को भी गिरफ्तार किया गया हैं.

अभिनव 30 फीसदी के कमीशन के साथ पुराने नोट को बदलने का काम करता था. इसमें उसके विशाखा, नागपाल, प्रमोद और हर्ष नाम के शख्स साथ थे. पुलिस के मुताबिक़ अभिनव और विशाखा 2000 रुपए के फर्जी नोट प्रिंट करते थे और सुमन नागपाल का काम उन क्लाइंट्स को ढूंढना होता था जो अपनी ब्लैक मनी को नए नोटों से बदलवाना चाहते थे.

अभिनव ने पिछले साल ही ‘Live Braille’ नाम की एक डिवाइस बनाई थी. जो दृष्टिहीन लोग के लिए बिना किसी छड़ी के कहीं भी घूमने में मादा करती हैं. इस डिवाइस को इस साल मेक इन इंडिया प्रोग्राम के तहत लॉन्च किया गया था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल ही दिसंबर महीने में बेंगलूरु में ‘इंडियन साइंस कांग्रेस’ अभिनव का जिक्र करते हुए तारीफ की थी.

पुलिस ने जानकारी दी है कि अभी तक इन्होंने 500 और 1000 के 30 लाख रुपए के नोट फर्जी नोटों के साथ बदले थे. जिसमें से 20 लाख रुपए में एक पुरानी ऑडी कार भी इन्होंने खरीद ली थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles