Sunday, August 1, 2021

 

 

 

महमूद मदनी का बड़ा बयान – आरएसएस मुस्लिमों के प्रति दिखा रही दयालुता, यह सुनहरा मौका…

- Advertisement -
- Advertisement -

जमीयत उलेमा-ए-हिंद (ए) चीफ मौलाना सैयद अरशद मदनी की आरएसएस चीफ मोहन भागवत से मुलाक़ात के बाद अब जमीयत के महासचिव मौलाना महमूद मदनी ने आरएसएस के पक्ष में बड़ा बयान दिया है।

महमूद मदनी ने कहा कि आरएसएस मुस्लिमों के प्रति दयालुता दिखा रही है। महमूद मदनी ने दोनों समुदायों के बीच की खाई पाटने के लिए लगातार बातचीत की वकालत की। मदनी ने कहा कि मुद्दे हमेशा एक जैसे नहीं रहते हैं । जब हालात में बदलाव आता है तो लोगों की सोच भी बदलती है।

उन्होने आगे कहा, मुझे लगता है कि संघ ने ऐसी उदारता दिखाने में काफी देर कर दी। फिर भी यह सुनहरा मौका है और सभी को आपसी बातचीत को प्रोत्‍साहित करना चाहिए। संवाद की प्रक्रिया रुकनी नहीं चाहि। उन्‍होंने कहा कि युद्ध कर रहे दो देश भी बातचीत से इनकार नहीं करते हैं। लिहाजा बातचीत के रास्‍ते हमेशा खुले रहने चाहिए।

जेयूएच के महासचिव ने कहा, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने खुद कहा कि मुस्लिमों के बिना हिंदुत्‍व अधूरा है। यह कहकर उन्‍होंने कई कदम आगे बढ़ा दिए हैं। अब अगर लगातार बातचीत होती रहे तो बाकी के अच्‍छे बदलाव आसान हो जाएंगे।  हमें आपसी मतभेद कम करने के लिए इसकी बहुत जरूरत है। मैं अब तक भागवत से नहीं मिला हूं। उनसे 2007 में जेयूएच से अलग होकर बनी जमीयत-उलेमा-ए-हिंद (ए) के मुखिया मौलाना अरशद मदनी की मुलाकात हुई है। अगर जरूरत होगी तो मुझे उनसे बातचीत करने में कोई एतराज नहीं है।

महमूद मदनी ने बातचीत के दौरान कहा कि बीती 11 सितंबर को दक्षिणपंथी विचारकों ने एक संगोष्ठी का आयोजन किया, जिसमें मुगल राजकुमार दारा शिकोह की प्रशंसा की और मुगल शासक औरंगजेब को ‘अत्याचारी’ बताया गया। महमूद मदनी के अनुसार, वह औरंगजेब को सिर्फ एक शासक मानते हैं। उन्होंने कहा कि ‘मैं औरंगजेब को बतौर शासक 10 में से 8 नंबर दूंगा, तो छत्रपति शिवाजी को 10 में से 10। मैं इसे हिंदू-मुस्लिम के तौर पर नहीं देखता।’

मदनी ने कहा कि “वह इतिहास में नहीं जाना चाहते क्योंकि इसमें फिर एमएस गोवलकर और वीडी सावरकर का भी जिक्र आएगा। ये भी सवाल पूछा जा सकता है कि कौन ‘अच्छा हिंदू’ है- नेहरु-पटेल या फिर गोवलकर-सावरकर? इतिहास में जाने से विवाद बढ़ेगा और मैं ये नहीं चाहता।”

News18 इनपुट के साथ…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles