Sunday, January 23, 2022

माहेश्वरी सभा के चुनाव 22 दिसंबर को – जाजू और श्याम सुंदर की मजबूत दावेदारी

- Advertisement -

नई दिल्ली। देश में महज़ 10 लाख की आबादी वाले माहेश्वरी समाज का राष्ट्र निर्माण में योगदान उल्लेखनीय है। अपनी शिक्षा, उद्यम और परिश्रम के बल पर अग्रणी समाज का गौरव हासिल करने वाले माहेश्वरी समाज का सामाजिक सरोकार अन्य समुदायों के लिए प्रेरणादायक है क्योंकि यह स्वयं के साथ-साथ अन्य समुदायों के विकास का भी पक्षधर है। इसका उल्लेख समाज के उत्पत्ति दिवस “महेश नवमी” के दिन स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी अपने शुभकामना संदेश में करते हैं। देश के युवाओं का सहयोग कर यह समाज परिवर्तन की बयार बहाने को इच्छुक है।

यह विचार नई दिल्ली के कंस्टीट्यूशन क्लब में आयोजित अखिल भारतीय माहेश्वरी महासभा की बैठक में उपस्थित समाज के अग्रणी लोगों ने प्रस्तुत किये। महासभा की बैठक का आयोजन 22 दिसंबर को होने वाले आम चुनाव के मद्देनजर किया गया जिसमें विभिन्न पदों के प्रत्याशियों ने समाज और राष्ट्र के विकास के बारे में अपनी-अपनी राय दी और समाज से कार्य करने के लिए समर्थन मांगा।

इस अवसर पर सभापति पद के रामअवतार जाजू, महामंत्री पद के श्याम सुंदरजी मंत्री, अर्थमंत्री पद के माणिक चंदजी काबरा, संगठन मंत्री पद के कमलजी भूतड़ा, उपसभापति पद के प्रेमचंद माहेश्वरी, संयुक्त पद के केदारनाथ चांडक एवं मध्यांचल उपसभापति पद के तृभुवन जी क़ाबरा जैसे प्रत्याशियों ने अपने विचार प्रकट किये। सेवा संकल्प टीम ने अपनी २९ सूत्रि योजना से आए हुए अतिथियों को अवगत कराया और सभी ने सेवा के संकल्प एक स्वर में लिया। श्री रामवतार जाजू ने कहा “हम सभी प्रत्याशी हमेशा सेवा के कार्यों में लीन रहे हैं और हमारा ध्येय सबका साथ सबका विकास समाज का विकास है”। राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित श्री श्याम मंत्री ने कहा “आज तक जो भी काम हमने हाथ में लिया है उसे पूरी इच्छाशक्ति से पूरा किया है। हमारे २९ सूत्रि कार्यक्रम को हम ज़रूर पूरा करेंगे।”

दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष डा एस एन चाँडक, लघु उद्योग भारती के राष्ट्रीय सचिव श्री सम्पत तोशनिवाल, हरियाणा पंजाब युवा संगठन अध्यक्ष श्री अमित सारदा एवं अन्य प्रभुद लोगों ने अपने विचार व्यक्त करते हुए सेवा संकल्प टीम के प्रति आस्था जतायी। श्री चाँडक ने रोष जताते हुए कहा “वर्तमान पदाधिकारियो ने चुनाव से पहले वोटर लिस्ट में से प्रभुध सदस्यों के नाम काट कर समाज को तोड़ने का काम किया है”। श्री प्रवीण गटानी ने ख़ूबसूरती से मंच का संचालन किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में दिल्ली, हरियाणा, पंजाब व उत्तर प्रदेश समाज के प्रमुख उद्योगपति, व्यवसायी और जागरूक सदस्य उपस्थित थे। आए हुए अतिथियों में परिवर्तन की अनोखी लहर दिखी।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles