हरियाणा के रेवाड़ी से गुरुवार को स्‍पशेल टास्‍क फोर्स (एसटीएफ) की टीम ने पाकिस्‍तानी जासूस को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार पाकिस्‍तानी जासूस का नाम महेश कुमार है। जो फेसबूक के जरिये पाकिस्तानी सेना को सीक्रेट इन्फॉर्मेशन दे रहा था।

मूल रूप से वह रेवाड़ी का रहने वाला है।  एसटीएफ के डीआइजी सतीश बालन का कहना है कि भारतीय सैन्य खुफिया (एमआई) के एक विशेष इनपुट के आधार पर आरोपित को गिरफ्तार किया गया। वह करीब दो साल से भी ज्‍यादा समय से वह पाकिस्‍तान के लिए जासूसी कर रहा था। इस दौरान उसे कई बार पैसे भी मिले है। जिसके सबूत जांच में सामने आए है।  कुमार जयपुर में भी तैनात था। वह पाकिस्तानी सेना के लिए काम करने वाली एक महिला को रक्षा संबंधी जानकारी दे रहा था।

कुमार पाकिस्तानी संचालक को “मैडमजी” कहकर संबोधित करता था। संदिग्ध की पहचान करने और इनपुट की सत्यता का पता लगाने के लिए एमआई यूनिट द्वारा एक ऑपरेशन कोड “ओप मैडमजी” लॉन्च किया गया था। जांच में खुलासा हुआ कि कुमार ने एमईएस जयपुर में एक नागरिक सफाई कर्मचारी के रूप में काम किया और कम से कम तीन ज्ञात और स्थापित पाकिस्तानी इंटेलिजेंस ऑपरेटिव (पीआईओ) को फेसबुक पर अपना दोस्त बनाया।

सूत्रों ने कहा कि कुमार को 5,000 रुपये का कम से कम दो भुगतान प्राप्त हुए, प्रत्येक केरल के माध्यम से अपने पाकिस्तानी हैंडलर्स से मिले। सितंबर के पहले सप्ताह में, कुमार को रेवाड़ी में और उसके आसपास रहना पाया गया। एमआई ने एसटीएफ हरियाणा के साथ मामले का विवरण साझा किया और दोनों एजेंसियों की एक संयुक्त टीम ने इसकी जांच की।

आरोपी को एमआई लखनऊ, एसटीएफ हरियाणा और एमआई जयपुर की टीमों द्वारा संयुक्त पूछताछ के लिए भेजा गया। कुमार ने जुलाई 2018 में ‘हरलीन गिल’ नाम से एक फेसबुक अकाउंट पर एक फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजना स्वीकार किया।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano