नई दिल्ली: टीआरपी घोटाला (TRP scam) मामले में फंसे रिपब्लिक टीवी और उसके संपादक अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) की परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही है। अब महाराष्ट्र विधानसभा सचिवालय ने अर्नब गोस्वामी को विशेषाधिकार हनन का नोटिस जारी किया है।

यह नोटिस विधानसभा अध्यक्ष की अनुमति के बिना सदन की कार्यवाही की प्रति उच्चतम न्यायालय में जमा करने के मामले में दी गई है। सचिवालय ने बुधवार को जारी बयान में कहा कि अर्नब गोस्वामी को 13 अक्टूबर को नोटिस जारी किया गया और 15 अक्टूबर को लिखित स्पष्टीकरण देने को कहा गया है।

इससे पहले विधानसभा सचिवालय ने 16 सितंबर को भी 2 दिवसीय मानसून सत्र के दौरान अर्नब गोस्वामी को विशेषाधिकार हनन का नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण देने को कहा था। विधानसभा में विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने पेश किया था।

उन्होंने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले पर प्रस्तुत कार्यक्रम में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और अन्य मंत्रियों को संबोधित करने के तरीके पर आपत्ति जताई थी। इस नोटिस पर 5 अक्टूबर की मियाद पूरी होने तक जवाब नहीं आने पर स्मरण-पत्र भेजकर 20 अक्टूबर तक जवाब तलब किया गया है।

बयान में कहा गया है कि गोस्वामी ने जब इस नोटिस के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का रुख किया, तो उन्होंने शीर्ष अदालत में सदन की कार्यवाही की प्रति भी प्रस्तुत की, जो विधायक की विशेषाधिकारों और विधानसभा अध्यक्ष की शक्तियों का जानबूझकर उल्लंघन था।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano