मुंबई | 21 फरवरी को महाराष्ट्र में हुए 10 नगर निगम चुनावो के नतीजे आने शुरू हो गए है. शुरुआती रुझानो में मुंबई में शिवसेना बढ़त बनाए हुए है तो करीब 7 नगर निगमो में बीजेपी ने बढ़त बना रखी है. इन चुनावो में सबसे ज्यादा नुक्सान कांग्रेस और एनसीपी को हुआ है. जबकि असुदुद्दीन ओवैसी की पार्टी को भी दो सीटे मिलती दिख रही है. हालाँकि अभी केवल रुझान सामने आये है लेकिन शिवसेना समर्थको ने जश्न मनना शुरू कर दिया है.

गुरुवार सुबह से सभी 10 नगर निगम चुनावो के वोटो की गिनती शुरू हो गयी. दोपहर 12.50 बजे तक मिले रुझानो के आधार पर शिवसेना 91 सीटो पर आगे चल रही थी. जबकि बीजेपी 55 सीटो पर आगे थी. वही कांग्रेस के लिए बीएमसी चुनावो के नतीजे बेहद उत्साहजनक नही रहे. वो केवल 20 सीटो पर आगे चल रही है. इन नतीजो से जो पार्टी सबसे ज्यादा निराश है वो है एनसीपी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एनसीपी के मुकाबले राज ठाकरे की मनसे ने ज्यादा अच्छा प्रदर्शन किया है. जहाँ एनसीपी केवल छह सीटो पर आगे चल रही है वही मनसे 10 सीटो पर आगे है. वही असुदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ने भी बीएमसी में दो सीटो पर जीत दर्ज की है. बीएमसी की 227 सीटो में से 114 के जादुई आंकड़े तक पहुँचने में अभी शिवसेना को और सीटो की जरुरत पड़ेगी लेकिन अगर वो थोडा पीछे भी रह जाती है तो उसे कुछ निर्दलीय या कांग्रेस का साथ मिल सकता है.

हालाँकि बीजेपी , बीएमसी में सरकार बनाती नही दिख रही है लेकिन पिछले चुनावो के मुकाबले उसकी सीटो में भारी इजाफा हुआ है. पिछले चुनावो में बीजेपी को केवल 31 सीटे मिली थी. वही शिवसेना भी 75 सीटो से बढ़कर सरकार बनाती दिख रही है. अगर नतीजो को देखा जाए तो दोनों ही पार्टियों का अलग अलग चुनाव लड़ना दोनों के लिए काफी फायदेमंद रहा. इससे कांग्रेस और एनसीपी को काफी नुकसान हुआ.

उधर नासिक और पुणे में बीजेपी बढ़त बनाए हुए है. नासिक में बीजेपी 23 और शिवसेना 9 सीटों पर आगे है. वही पुणे में बीजेपी 50 सीटो पर बढ़त बनाए हुए तो एनसीपी केवल 8 सीटो पर आगे है. ठाणे में बीजेपी काफी पीछे चल रही है. ठाणे में शिवसेना 27 सीटो पर और बीजेपी 10 सीटो पर आगे चल रही है.

Loading...