मुंबई | अगर किसी का पति मुख्यमंत्री हो तो फिर पत्नी को अपनी कला संवारने और खुद को प्रोमोट करने में ज्यादा मेहनत नही करनी पड़ती. इसका सबसे बड़ा उदहारण है महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडंनवीस की पत्नी अमृता फडनवीस. अमृता पेशे से एक गायिका है. हालाँकि वो उस दर्जे की गायिका नही है की उनको बार बार सुना जाये लेकिन मुख्यमंत्री की पत्नी है तो इतनी जेहमत तो उठायी ही जा सकती है. इसलिए वो अपने कॉन्सर्ट भी करती रहती है.

उनका एक ऐसा ही कॉन्सर्ट महराष्ट्र के औरंगाबाद में होने जा रहा है. ‘पुलिस रजनी’ नामक इस कार्यक्रम में अमृता को सद्भावना दूत बनाया गया है.कार्यक्रम का आयोजन औरंगाबाद पुलिस के सौजन्य से किया जा रहा है. लेकिन चौकाने वाली खबर यह है की इस कॉन्सर्ट के टिकेट बेचने के लिए औरंगाबाद पुलिस को लगाया गया है. बताया जा रहा है की इस कॉन्सर्ट के एक टिकेट की कीमत 51 हजार रूपए रखी गयी है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कॉन्सर्ट के लिए 400 टिकेट बेचने का लक्ष्य रखा गया है. लेकिन जैसे ही यह खबर मीडिया में आई की पुलिसकर्मियों को कॉन्सर्ट के टिकेट बेचने के लिए कहा गया है वैसे ही विपक्षी दलों ने राज्य सरकार पर हमला बोल दिया. कांग्रेस ने इस सिलसिले में पुलिस आयुक्त से मुलाक़ात कर उनको ज्ञापन सौपा. कांग्रेस ने पुलिस आयुक्त से मामले में स्पष्टीकरण देने की मांग करते हुए कहा की वो बताये की किसके आदेश पर पुलिसकर्मियों को टिकेट बेचने के लिए कहा गया है.

कांग्रेस ने पुलिस आयुक्त से यह भी पुछा की आप बताये की क्या असामाजिक तत्वों को ये टिकेट बेचे गए है? अगर ऐसा है तो इसके लिए कौन जिम्मेदार है? उधर औरंगाबाद पुलिस की और से यह बात मानी गयी है की पुलिस की और से 15 थानों को टिकेट बेचने के लिए कहा गया है. बताते चले की अमृता फडनवीस पहले भी कुछ कॉन्सर्ट कर चुकी है. इसके अलावा उन्होंने अमिताभ बच्चन के साथ एक एल्बम भी की है.