जय श्रीराम नहीं बोलने पर मदरसा टीचर की पिटाई, चलती ट्रेन से दे दिया धक्का

10:48 am Published by:-Hindi News
Courtesy: Lokbharat

नई दिल्ली: झारखंड के कोल्हान प्रमंडल क्षेत्र में जय श्रीराम का नारा नहीं लगाने को लेकर 24 साल के तबरेज़ अंसारी की पिटाई के बाद हुई मौत का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि पश्चिम बंगाल साउथ 24 परगना जिले से हुगली में ऐसा ही एक मामला सामने आया है। जहां मुस्लिम युवक की जान बाल-बाल बची।

जानकारी के अनुसार, हाफिज मोहम्मद शाहरुख हलदर 20 जून की दोपहर को साउथ 24 परगना जिले से हुगली जा रहे थे। पीड़ित ने बताया, उस दौरान कोच में मौजूद एक ग्रुप जय श्रीराम के नारे लगा रहा था। उन्होंने मुझसे भी नारे लगाने के लिए कहा। जब मैंने इनकार किया तो उन्होंने मेरे साथ मारपीट शुरू कर दी। कोई भी मुझे बचाने के लिए नहीं आया।

उन्होने बताया, यह घटना उस वक्त हुई, जब ट्रेन धकुरिया और पार्क सर्कस स्टेशन के बीच थी। उन्होंने मुझे पार्क सर्कस स्टेशन पर ट्रेन से बाहर फेंक दिया। इसके बाद कुछ स्थानीय लोगों ने मेरी मदद की। रेलवे पुलिस के अधिकारियों के मुताबिक, पीड़ित को कुछ चोटें लगी हैं। उसे चितरंजन हॉस्पिटल ले जाया गया और प्रॉपर इलाज कराया गया।

रेलवे पुलिस के मुताबिक, इस मामले में बैलीगंगे रेलवे स्टेशन पर अज्ञात लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 341, 323 325, 506 और 34 के तहत केस दर्ज कर लिया गया है। हलदर के मुताबिक, यह घटना ट्रेन नंबर 34531 में हुई, जो कैनिंग से स्यालदाह जाती है। हलदर साउथ 24 परगना जिले के बासंती का रहने वाला है।

बता दें देश के कई हिस्सों में मुस्लिमों के साथ हिंसा की जा रही है। उनके साथ मारपीट कर धार्मिक नारे लगाने को मजबूर किया जा रहा है।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें