madhu

madhu

हरियाणा के गुरुग्राम में महारानी पद्मावती की अस्मिता से कथित खिलवाड़ का हवाला देकर फिल्म पद्मावत के विरोध हुए स्कूल बस पर हमले को जानी-मानी लेखिका और बीजेपी समर्थक मधु किश्वर ने मुस्लिमों से जोड़ कर सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश की. लेकिन वे नाकाम हो गई.

दरअसल, मधु किश्वर ने इस हमले को लेकर ट्वीट किया कि, ‘भंसाली की फिल्म के विरोध में करणी सेना के नाम पर स्कूल बस पर हमला करने के आरोप में गिरफ्तार पांच लोगों के नाम हैं – सद्दाम, आमिर, फिरोज, नदीम, अशरफ। अगर ये सच है तो बहुत कुछ कहता है, अब और कुछ कहने की जरूरत नहीं है.’

मधु किश्वर के इस ट्वीट के बाद गुरुग्राम पुलिस ने मामले की जानकारी देते हुए कहा कि ‘हम ये साफ कर देना चाहते हैं कि गुरुग्राम में हरियाणा रोडवेज की बस और एक स्कूल बस पर हमले के मामले में किसी मुस्लिम लड़के को गिरफ्तार नहीं किया गया है.’

ध्यान रहे सोशल मीडिया पर इस घटना का एक वीडियो वायरल हुआ था. जिसमे कथित तौर पर करनी सेना के बहादुर वीर बस पर पत्थर फेंकते हुए दिख रहे थे. वीडियो में बस में सवार टीचर सभी बच्चों को फर्श पर लेट जाने को कह रही है. इस हमले से बच्चे डर गए और चीख पुकार कर रहे.

मामले को सांप्रदायिक रूप देने को लेकर उठी मधु किश्वर की गिरफ्तारी की मांग के बाद उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया और इसके लिए माफी भी मांगी.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?