Thursday, September 23, 2021

 

 

 

मदनी का दलित-मुस्लिम एकता पर बल, कहा – ‘मुस्लिम और दलित एक-दुसरे के सुख-दुख में शामिल हों’

- Advertisement -
- Advertisement -

mahmud

देश की राजधानी दिल्ली के रामलीला मैदान में दलित मुस्लिम संयुक्त महासंग्राम के बैनर तले हुई रैली को संबोधित करते हुए कहा कि देश में मुसलामानों से धर्म के आधार पर और दलितों से जाति के आधार पर भेदभाव किया जा रहा हैं. ऐसे में दोनों समुदायों को मिलकर इस भेदभाव से लड़ना होगा.

उन्होंने दलित-मुस्लिम एकता पर जोर देते हुए कहा कि अगर हमने सिर्फ अपनी लडाई लड़ी तो हम कभी कामयाब नहीं होंगे, क्योंकि आप अकेले होंगे.और जिस दिन आप दूसरे के बारे में सोचना शुरू कर देंगे, उनके ऊपर होने वाले अन्याय को लेकर अपने दिल में बैचनी महसूस करने लगेंगे, उनकी लड़ाई लड़ना शुरू कर देंगे उस दिन आप अकेले नहीं रहेंगे और एक और एक दो नहीं बल्कि ग्यारह हो जाएंगे.

मदनी ने दोनों समुदायों को चेताते हुए कहा कि हुकमरानों के बदलने से हालात नहीं बदलते, कर्म और किरदार के बदलने से हालात बदलते हैं, अपने चरित्र को बदलना पड़ता हैं. उन्होंने कहा कि यह देश हमारा हैं. इसकी सुरक्षा करना, और इसे आगे बढ़ाना हमारी जिम्मेदारी हैं.

मदनी ने मुस्लिमों से अपील करते हुए कहा कि वह इस्लाम के रास्ते पर चलते हुए अपने इलाकों में रहने वाले दलितों के सुखदुख में शामिल हों.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles