Saturday, October 23, 2021

 

 

 

जम्मू में आतंकवादी हमले में महिला और बच्चों को बचाते वक़्त जेसीओ एम अशरफ मीर हुए शहीद

- Advertisement -
- Advertisement -

 

m ashraf mir

जम्मू आर्मी कैंप पर आतंकी हमले में सेना सावधानीपूर्वक ऑपरेशन चला रही है. इस हमले में बच्चों और महिलाओं को बचाते वक़्त सेना का एक जवान शहीद हो गया है जबकि 6 सैनिक घायल हो गए हैं. वहीँ सेना का कहना है कि आतंकवादियों को खत्म करने करने में ज्यादा वक़्त इसलिए लगा रहा है क्योंकि आतंकवादी सेना के फैमिली क्वॉर्टर में घुस गए हैं.

सेना ने शनिवार को इस ऑपरेशन की जानकारी दी कि आतंकियों को घेर लिया गया है. इसी के साथ आतंकियों से निपटने के लिए पैरा कमांडो की टीम भी आर्मी कैंप भी पहुंच चुकी है. वहीँ सेना के एक अधिकारी ने यहां बताया कि अभी ऑपरेशन जारी है. उन्होंने कहा कि आतंकियों के खिलाफ सेना फूंक-फूंककर ऑपरेशन चला रही है ताकि किसी को नुकसान पहुंचें बिना आतंकियों का सफाया किया जा रहा है.

वहीँ सैन्य अधिकारी ने बताया कि बच्चों और महिलाओं को बचाने के दौरान ही जेसीओ एम अशरफ मीर शहीद हो गए. सेना का कहना है कि वह आखिरी  ऑपरेशन की तैयारी में पूरी तरह जुट चुकी है. मिल रही खबरों के मुताबिक आर्मी कैंप में 3 आतंकियों के होने की खबर है. जिन का जल्द से जल्द खात्मा किया जाएगा.

master

शनिवार को आर्मी कैंप में सुबह के 5 बजे के करीब 4 से 5 आतंकी घुस गए थे, जिनके पास हथियार थे. आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन में सैनिकों के साथ अब पैरा कमांडोज भी शामिल हो गए हैं। ये आतंकवादी जेसीओ क्वॉर्टर में भी घुसने में कामयाब हो गए थे. भारतीय जवान अब आतंकवादियों की तलाश के लिए हर कमरे की तालाशी ले रहे है. वहीँ हमले के फौरन बाद उधमपुर से IAF के पैरा कमांडोज को जम्मू बुलाया गया.

हमले पर नज़र रखते हुए केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि, ‘हम इस हमले पर पैनी नजर रखे हुए हैं. हमारे जवान बहादुरी से आतंकियों का मुकाबला कर रहे हैं.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles