लखनऊ | अगले महीने से देश में त्योहारों का सीजन शुरू होने वाला है. सितम्बर के अंत से लेकर अक्टूबर के आखिरी सप्ताह तक त्यौहार ही त्यौहार है. इस दौरान हिन्दुओ का दशहरा और मुस्लिमो द्वारा मनाया जाने वाला मोहर्रम करीब करीब साथ ही पड़ रहा है. इसलिए कई राज्यों में इसको लेकर काफी चिंता देखी जा सकती है. किसी भी संप्रदायिक तनाव से बचने के लिए कुछ राज्य सरकारो ने कई अहम् फैसले भी लिए है.

इनमें बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मोहर्रम के दिन दुर्गा प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगा दी है. अब इसी मामले में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी सुरक्षा और कानून व्यवस्था को लेकर प्रदेश के उच्च अधिकारियो के साथ बैठक की है. बैठक में कानून व्यवस्था और शांति बनाये रखने के लिए कई अहम् फैसले लिए गए. मुख्यमंत्री योगी ने दशहरे और मोहरर्म के दिन डीजे और लाउड स्पीकर बजाने पर रोक लगा दी है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

हालाँकि कुछ शर्तो के साथ लाउड स्पीकर बजाने की छूट देने का फैसला किया गया है.इसके अलावा दुर्गा प्रतिमा और ताजिये की ऊंचाई को भी निर्धारित कर दिया गया है. दरअसल दशहरे के बाद दुर्गा प्रतिमा विसर्जन की जाती है. इसके अलावा मोहर्रम के दिन ताजिया जुलुस और दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के रास्ते अलग अलग करने के निर्देश दिए गए है. बैठक के बाद प्रदेश के सभी जिलाधिकारियो और पुलिस अधिक्षको को गाइडलाइन्स जारी कर दी गयी है.

बताते चले की प्रदेश में हाल ही में कई साम्प्रदायिक हिंसा हो चुकी है. इसलिए त्यौहारो में इस तरह की घटनाओं से बचने के लिए योगी सरकार पहले ही तैयारी करने में जुट गयी है. हाल ही में हुई ज्यादातर घटनाओं में लाउड स्पीकर और डीजे के इस्तेमाल को लेकर हिंसा भड़की है. जिसकी वजह से इन पर रोक लगाने का फैसला किया गया है. बताया जा रहा है की योगी ने शनिवार शाम को राज्य के आला अधिकारियो के साथ समीक्षा बैठक की थी.

Loading...