बीते साल राजस्थान के राजसमंद में 50 साल के एक मुस्लिम शख्स मोहम्मद अफराजुल खान की की धोखे से हत्या कर उसे जिंदा जलाने के आरोपी हैवान शंभूलाल रेगर को लोकसभा चुनाव लड़ाने के ऐलान के साथ ही अब 2015 में दादरी के एक गांव बिसाहड़ा में बीफ अफवाह फैलाकर मोहम्मद अखलाक की पीट-पीटकर हत्या करने वाले आरोपी रुपेंद्र राना को भी आगामी लोकसभा चुनाव लड़ाने की तैयारी की जा रही है।

शंभुलाल रेगर को आगरा से चुनाव लड़ाने का ऐलान करने वाली उत्तर प्रदेश नव-निर्माण सेना ने रुपेंद्र राना को टिकट देने का ऐलान किया है। आरोपी रुपेंद्र राना आगामी लोकसभा चुनावों में नोएडा से चुनाव लड़ सकता है।

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत के दौरान उत्तर प्रदेश नव-निर्माण सेना के अध्यक्ष अमित जानी ने बताया कि गायों की रक्षा के लिए राना बिल्कुल सही व्यक्ति है क्योंकि उसने गौमाता के सम्मान के लिए 2.5 साल जेल में बिताए हैं। गायों के लिए कुछ करने के झूठे वादे करने के बजाए रुपेंद्र राना ने साल 2015 में ही गौमाता के लिए अपने समर्पण का सबूत दे दिया है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

shambhu

अमित जानी ने बताया कि रुपेंद्र राना को पार्टी की तरफ से लोकसभा प्रत्याशी बनाए जाने की औपचारिक घोषणा बिसहाड़ा गांव में ही की जाएगी। अमित जानी ने बताया कि आगरा, मथुरा और नोएडा के उम्मीदवारों के समर्थन में एक ज्वाइंट रैली आगामी 14 अक्टूबर को मथुरा के मांट इलाके में आयोजित की जाएगी।

विवादित लोगों को ही प्रत्याशी बनाए जाने का पीछे रणनीति के बारे में पूछने पर जानी ने कहा कि हम देश में हिंदूवादी सरकार चाहते हैं और इसलिए हिंदूवादी चेहरों को आगे किया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी हिंदूवाद के नाम पर सत्ता में आई लेकिन हिंदूवादी सरकार नहीं बनाई जा सकी। वहीं पीएम मोदी रामलला के दर्शन ना करके मस्जिद की जियारत करने पहुंच गए।

Loading...