नई दिल्ली: कोरोना वायरस के मद्देनजर देश में लागू किए गए 21 दिनों के राष्ट्रपव्यापी लॉकडाउन के आगे बढ़ने के कयासो को सरकार ने विराम दे दिया है। कैबिनेट सचिव राजीव गाबा ने कहा है कि लॉकडाउन बढ़ाने की फिलहाल कोई योजना नहीं है।

गाबा ने कहा कि जिस तरह की रिपोर्ट सामने आ रही है उसे देखकर मैं हैरान हूं। जगह-जगह चर्चाएं हो रही है कि लॉकडाउन की अवधि बढ़ाई जाएगी। उन्होंने कहा कि मैं स्पष्ट कर दूं कि लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाने का कोई प्लान नहीं है। कैबिनेट सेक्रेटरी के इस ऐलान से लोगों को जरूर राहत मिलेगी। क्योंकि, इन दिनों लॉकडाउन को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है। कई रिपोर्ट और मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि देश में लॉकडाउन की अवधि बढ़ाई जाएगी।

सरकार के उच्च स्तरीय अधिकारियों ने लॉकडाउन के हालात पर रविवार को एक बैठक की। इस बैठक में लॉकडाउन में कुछ ढील देते देने का फैसला किया गया है। दरअसल अब जरूरी के साथ ही गैर-जरूरी सामान की ढुलाई भी हो सकेगी। अभी तक सिर्फ जरूरी सामान की ढुलाई की ही मंजूरी थी।

देश में कोरोना वायरस के अभी तक कुल 1024 मामले सामने आए हैं। वहीं मीडिया रिपोर्ट में यह आंकड़ा 1144 बताया जा रहा है। इस खतरनाक वायरस से 27 लोगों की मौ*त हो चुकी है। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिनों का देशव्यापी लॉकडाउन लगा रखा है।

केन्द्र सरकार ने पहले एक दिन के लिए जनता कर्फ्यू लगाया। उसके बाद 21 दिनों यानी 14 अप्रैल तक के लिए देश में लॉकडाउन कर दिया गया। लॉकडाउन के दौरान कई लोग पलायन करने पर मजबूर हो गए हैं।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन