Thursday, August 5, 2021

 

 

 

शाहीन बाग में CAA विरोधी धरना रोकने के लिए पुलिस कमिश्नर को लिखा गया पत्र

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली। अनलॉक-1 के शुरू होते ही शाहीन बाग में सीएए (नागरिकता संशोधन कानून) और एनआरसी (राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर) के विरोध में फिर से धरना-प्रदर्शन शुरू होने की अटकलों के बीच दिल्‍ली पुलिस कमिश्नर को इस संबंध में एक पत्र लिखा गया है। पत्र में मांग की गई है कि शाहीन बाग प्रोटेस्ट के “दूसरे चरण” को रोकने के लिए पहले ही ऐहतियातन कदम उठाए जाए।

दिल्ली पुलिस कमिश्नर को लिखे गये इस पत्र में मांग वकील एवं सामाजिक कार्यकर्ता अमित साहनी की तरफ से की गई है। इस पर उनका कहना है कि वैश्विक महामारी कोविड-19 के बीच सार्वजनिक मार्ग अवरुद्ध करने वाले किसी भी विरोध को रोकने को लेकर दिल्‍ली पुलिस पहले से ही कार्रवाई करे।

उन्होंने दिल्‍ली पुलिस कमिश्‍नर को लिखे गए पत्र में कहा है कि रिपोर्ट के अनुसार, विरोध-प्रदर्शनों को सक्रिय कर सड़क को दोबारा अवरुद्ध करने के लिए शाहीन बाग और जामिया मिलिया इस्लामिया क्षेत्र में कई बंद दरवाजों के पीछे बैठकें हुई हैं, इसलिए विरोध शुरू होने, सार्वजनिक सड़क को रोके जाने से पहले ही ऐहतियातन उपाय किए जाएं।

पत्र लिखने वाले अमित साहनी ने ही शाहीन बाग में शुरू हुए धरना-प्रदर्शन के कारण दिल्ली, हरियाणा और यूपी को जोड़ने वाले कालिंदी कुंज मार्ग पर सड़कें बंद किए जाने के खिलाफ दिल्‍ली हाईकोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक जनहित याचिकाएं दायर की थी।

बता दें कि बीते कुछ दिनों से पुलिस ने शाहीन बाग  और जामिया इलाके में सुरक्षा बल तैनात करने के साथ उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद इलाके भी कड़ी सुरक्षा कर दी है। शाहीन बाग (Shaheen Bagh) की कुछ महिलाएं फिर से सीएए-एनआरसी के खिलाफ धरना शुरू करने पहुंच गईं। पुलिस को सूचना मिली तो वो भी मौके पर आ गई। थोड़ी देर बाद ही महिलाओं को समझा-बुझाकर वापस भेज दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles