piyushgoyal k2tc 621x414@livemint

piyushgoyal k2tc 621x414@livemint

नई दिल्ली | देश में रोजगार सर्जन को लेकर आलोचना झेल रही मोदी सरकार, फ़िलहाल यह मानने को तैयार नही है की वो नौकरी देने पाने में नाकाम रही है. इसलिए सरकार की तरफ से तरह तरह के बयान सामने आ रहे है. इसी कड़ी में रेल मंत्री पियूष गोयल ने बेहद ही बेतुका बयान देते हुए कहा की नौकरियों में कमी होना देश के लिए अच्छा संकेत है. पियूष गोयल के इस बयान पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने नाराजगी जाहिर की है.

दरअसल गुरुवार को वर्ल्ड इकनोमिक फोरम की इंडिया इकनोमिक समिट में बोलते हुए भारती एयरटेल के मुखिया सुनील मित्तल ने देश में बढ़ रही बेरोजगारी पर चिंता व्यक्त की थी. उन्होंने कहा की अगर देश की टॉप 200 कंपनिया नई नौकरिया सर्जित नही करती तो पुरे व्यापारिक समाज के लिए समाज को साथ खींच पाना बेहद मुश्किल होगा. इसके बाद आप लाखो करोडो को पीछे छोड़ देंगे. सुनील मित्तल के इस बयान पर रेल मंत्री पियूष गोयल ने असहमति जताते हुए उन्हें बीच में ही टोक दिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पियूष गोयल ने आगे बोलते हुए कहा ,’ क्या सुनील ने जो कहा, मैं उसमें कुछ और जोड़ सकता हूं? सुनील ने कहा कि कंपनियां रोजगार घटा रही हैं जो कि अच्‍छा संकेत है. तथ्‍य यही है कि आज, कल का युवा सिर्फ नौकरी की तरफ नहीं देख रहा. वह नौकरी देने वाला बनना चाहता है. देश आज ज्‍यादा से ज्‍यादा युवाओं को एंटरप्रेन्‍योर बनने की इच्‍छा रखते देख रहा है.’ बाद में पियूष गोयल के इस बयान की काफी आलोचना हुई है.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने ट्वीट कर पियूष गोयल के बयान को अपमानजनक बताया है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा,’ यह बेहद अपमानजनक है. मैं इस तरह का बयान देखकर दुखी हूं.’ इस ट्वीट के साथ राहुल ने पियूष के बयान की खबर को भी शेयर किया है. बताते चले की राहुल गाँधी ने बेरोजगारी के मुद्दे पर मोदी सरकार को पहले गुजरात और बाद में अमेठी में घेरा था. उन्होंने कहा की देश की दो सबसे बड़ी समस्याए रोजगार और कृषि , दोनों क्षेत्र में मोदी सरकार नाकाम रही है.