टीवी डिबेट में लालू यादव को कहा गया ‘ललुआ’, पत्रकार ने उठाया सवाल – अटलवा-भागवतवा क्यों नहीं बोलते?

5:50 pm Published by:-Hindi News

ABP न्यूज़ चैनल के एंकर ने राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव का डिबेट के दौरान ललुआ कहकर मजाक उड़ाने की कोशिश की। जिसको लेकर आरजेडी समर्थक बुरी तरह भड़क गए। इस दौरान उन्होने कहा, ललुआ कौन बोला? आप हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए अपशब्द नहीं इस्तेमाल कर सकते हैं। हालांकि, हालात हाथ से बाहर होते देख एंकर ने माफी मांग ली।

जानकारी के अनुसार, बिहार के मुंगेर जिले में एबीपी न्यूज की लाइव डिबेट में एंकर अनुराग मुस्कान ने सवालों के दौरान ‘ललुआ’ शब्द इस्तेमाल किया। हालांकि बवाल होने पर पत्रकार नेकहा, “प्यार से बोले (ललुआ) थे।” इस पर आरजेडी समर्थक भड़क गए और उन्होने कहा, लालू यादव बोलिए। वह हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। आप उनके लिए अपशब्द नहीं बोल सकते हैं।

आरजेडी ने टि्वटर पर मामले का वीडियो भी पोस्ट कर लिखा, “एबीपी न्यूज के पत्रकार अनुराग मुस्कान ने अकारण जातिवादी सोच के चलते लालू जी को जातिसूचक, हेयसूचक “ललुआ” कहा! पत्रकारिता धर्म का निर्वाह हो! पत्रकारिता निम्नतम स्तर पर पहुंच चुकी है! जिस जातिवाद के खिलाफ, दलित पिछड़ों के सम्मान की लालू जी ने जंग लड़ी वह जंग आज भी जारी है!”

वहीं वरिष्ठ पत्रकार दिलीप मण्डल ने भी सवाल उठाया कि सवर्ण पत्रकार “प्यार” से “अटलवा”, “वाजपेइया”, “नरेनदरा”, “नेहरूआ”, “मालवइया” “भागवतवा” क्यों नहीं बोलते? ये प्यार से “ललुआ” या “मुलयमा” या “रामविलसवा” ही क्यों बोलते हैं? ये “प्यार” है या फिर इनके भीतर छिपी सवर्ण नफरत?

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें