al-thani

भारत की 2 दिवसीय सरकारी यात्रा पर नई दिल्ली पहुंचे  कतर के प्रधानमंत्री शेख अब्दुला बिन नासिर बिन खलीफा अल थानी की शनिवार को राजधानी दिल्ली के हैदराबाद हाउस में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाक़ात हुई. इस दौरान दोनों देशों के बीच चार समझौतों पर हस्ताक्षर हुए.

दोनों देशों के बीच जो करार किए गए उनमें वीजा समझौता काफी अहम हैं. दोनों देशों के कारोबारियों और पर्यटकों को एक-दूसरे के यहां आने-जाने के लिए ई वीजा देने के मुद्दे पर बातचीत शुरू करने का प्रावधान भी किया गया है. इसके अलावा ऊर्जा, व्यापार व सुरक्षा सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

भारत की अपनी पहली यात्रा पर आए अल थानी व मोदी ने रक्षा व सुरक्षा विशेषकर साइबर सुरक्षा के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर चर्चा की तथा मनी लांड्रिंग और आतंकवाद को वित्तपोषण पर काबू बनाने के लिए संयुक्त कार्रवाई पर सहमति जताई. वहीँ पीएम ने कहा कि भारतीय कंपनियां कतर में हाइड्रोकार्बन क्षेत्र में निवेश करना चाहती हैं.

दोनों देशों के मध्य हुए समझोते

-कारोबारियों और टूरिस्टों के लिए ई-वीजा सुविधा देने के समझौते पर बातचीत का इरादा जताया गया है.
-कतर में 2022 में होने वाले फीफा वर्ल्ड कप के लिए इन्फ्रास्ट्र्क्चर प्रोजेक्टों में भारतीय कंपनियों की भागीदारी के लिए एमओयू पर दस्तखत हुए.
-साइबर अपराध से निपटने के लिए दोनों देशों के बीच 2008 से जारी तकनीकी सहयोग का अब प्रोटोकॉल भी होगा.

Loading...