जनता के समर्थन के साथ ऑड इवन को जनवरी में 15 दिन के लिए सफलता पूर्वक लागू करने के बाद फिर से अप्रैल में लागू किया गया है। केजरीवाल का यह फैसला दुनिया में उनकी तारीफ करवा रहा है। कई देश उनके फैसलों के मुरीद हो चुके हैं।

hindkhabar के अनुसार इन मुरूदों की लिस्ट में अब रूस का नाम भी जुड़ गया है। रूस से आए मॉस्को प्रशासन परिवहन विभाग के एक प्रतिनिधिमंडल ने दिल्ली के परिवहन मंत्री गोपाल राय से मुलाकात की। इस दौरान रूसी प्रतिनिधिमंडल ने ऑड इवन में दिलचस्पी दिखाई है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

रूसी प्रनितिधिमंडल ने दिल्ली में केजरीवाल सरकार द्वारा लागू किए गए ऑड इवन के बारे में गोपाल राय से बात की। उन लोगों ने सवाल पूछा कि आखिर कैसे दिल्ली में ऑड-इवन को लागू किया गया। मुलाकात के दौरान दोनो देशों में परिवहन व्यवस्था पर बात की गई। रूसी प्रतिनिधिमंडल ने ऑड इवन में खासी दिलचस्पी दिखाने के साथ साथ, डीटीसी बसों और मेट्रो रेल पर भी सवाल किए।

दिल्ली सरकार की तरफ से जरी बयान में कहा गया कि रूस ने दिल्ली और मॉस्कों में परिवहन व्यवस्था सुधारने पर भी चर्चा की। साफ है कि केजरीवाल सरकार के नए और अनोखे फैसले अब वैश्विक स्तर पर चर्चा का विषय बन रहे हैं। इस से पहले अमेरिका ने भी केजरीवाल सरकार के मोहल्ला क्लीनिक में दिलचस्पी दिखाई थी। तब कहा गया था कि मोहल्ला क्लीनिक अमेरिका की स्वास्थ्य व्यवस्था से बेहतर तरीके से काम कर रहा है।

गौरतलब है कि इससे पहले अमरीका सहित कई देशों ने केजरीवाल की योजनाओं विशेषकर ऑड इवन योजना की सराहना की थी और भारत में अमरीकी राजदूत ने तो इस योजना को बेहतर करार देते हुए इसमें सहायता करने की भी पेशकश करदी थी।

Loading...