नई दिल्ली | ढाई साल पहले कई बड़े वादों के साथ सत्ता में आई केजरीवाल सरकार ने कई क्षेत्रो में अभूतपूर्व काम किया है. यही वजह है की केजरीवाल सरकार की कई योजनाओं को बाकी राज्य भी अपनाने की तैयारी कर रहे है. जिस तरह से ढाई सालो के अन्दर सरकारी स्कूलों और सरकारी अस्पतालों की काया पलट की गयी है वह वाकई में काफी अभूतपूर्व है. यहाँ तक की केजरीवाल सरकार के इन कदमो की तारीफ विदेशी मीडिया में भी हो रही है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल का कहना है की चुनावो के समय जनता से किये गए प्रत्येक वादों को वह पांच सालो में पूरा कर देंगे. इसी कड़ी में दिल्ली में फ़िलहाल डेढ़ लाख सीसीटीवी कैमरे लगाने का फैसला किया गया है. इसके अलावा वाई फाई के लिए भी टेंडर जारी कर दिए गए है जो चुनाव के समय एक बड़ा वादा था. इसके अलावा कॉन्ट्रैक्ट पर रखे गए कर्मचारियों को नियमित करने का भी वादा किया गया था.

इस मामले में गेस्ट टीचर काफी दिनों से सरकार से उन्हें नियमित करने की मांग कर रहे है. अब इस क्षेत्र में भी केजरीवाल सरकार ने आगे बढ़ने का फैसला किया है. दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दिल्ली के गेस्ट टीचर को खुशखबरी देते हुए बताया की कैबिनेट ने उन्हें नियमित करने पर मोहर लगा दी है. एक ट्वीट के जरिये मनीष ने बताया की 4 दिसम्बर को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर गेस्ट टीचर को नियमित करने का बिल पास कर दिया जाएगा.

सरकार के इस फैसले से करीब 15 हजार गेस्ट टीचर को राहत मिलेगी. खासकर त्योहारों में उनके लिए यह एक तोहफे की तरह होगा. इस बारे में और बताते छुए मनीष सिसोदिया ने कहा की पिछले ढाई सालो में दिल्ली के करीब 17 हजार गेस्ट टीचर्स ने अभूतपूर्व काम किया है. इसलिए उनको नियमित करने का फैसला किया गया है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?