नई दिल्ली | दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने बीजेपी और आरएसएस पर अप्रत्यक्ष तौर पर केरल में अशांति पैदा करने का आरोप लगाया है. एक कार्यक्रम में बोलते हुए उन्होंने कहा की कुछ ताकते देश को धर्म के नाम पर तोड़ने का प्रयास कर रही है. इस दौरान उन्होंने केरल सरकार की तारीफ करते हुए कहा की सरकार ऐसी ताकतो से लड़ने के लिए केरल सरकार बधाई की पात्र है.

शनिवार को दिल्ली में हुए “केरल दिल्ली सांस्कृतिक उत्सव 2017” में बोलते हुए केजरीवाल ने उक्त विचार रखे. उन्होंने कहा की यह देश गांधी, बुद्ध और महावीर का है. इस देश के लोग घृणा पसंद नहीं करते, वे शांति और प्रेम चाहते हैं. सदियों पहले भारत ने यह संदेश दुनिया को दिया था. जबकि कुछ ताकते देश को धर्म के नाम पर तोड़ने की कोशिश कर रही है जो हमें दुखी करता है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

केजरीवाल ने आगे कहा की कुछ ऐसी ही कोशिश केरल में भी की जा रही है. लेकिन हम पढ़ते है की आप कैसे इन ताकतों से लड़ रहे है, मैं आपको बधाई देता हूँ. ऐसी ताकतो के खिलाफ मिलकर लड़ने का आग्रह करते हुए केजरीवाल ने कहा ,’हम राम, यीशु, नबी मोहम्मद और गुरू नानक में विश्वास करते हैं और यही हमारे देश की नींव है. कुछ ताकतें इसे नष्ट करने की कोशिश कर रही हैं. हम सभी को उनके खिलाफ लड़ने की जरूरत है. हम इस लड़ाई में आप के साथ हैं.’

उल्लेखनीय है की केरल में पिछले चार दशको से संघ और सीपीएम् के बीच संघर्ष चल रहा है. हाल फ़िलहाल के दिनों में इस संघर्ष ने हिंसा का रूप लिया है जिसमे काफी आरएसएस और बीजेपी के कार्यकर्ताओ की मौत भी हुई है. इसी मुद्दे को लेकर बीजेपी ने हाल ही में जनरक्षा यात्रा का आयोजन किया था जिसमे बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हिस्सा लिया था.

Loading...