modi az

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 17 अप्रैल, 2018 से लंदन दौरे पर होंगे. इस दौरान वे ‘मन की बात’ प्रोग्राम की तरह ‘भारत की बात’ करेंगे. इसके लिए कुछ भारतीय छात्र संगठनों ने प्रधानमंत्री से सीधे सवाल किया है.

ब्रिटेन की नेशनल इंडियन स्टूडेंट एंड एलुमिनाई द्वारा रविवार को पत्र लिखकर प्रधानमंत्री से सवाल किया गया कि भारत में तीन नाबालिग लड़कियों के खिलाफ ‘घृणित प्रकृति के अपराध’ में पीएम मोदी तेजी से और उचित न्याय के लिए कब कार्रवाई करेंगे?

पत्र में कहा गया कि ‘जब आपने इस मुद्दे पर अपनी बात रखी, तब राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि बच्चियों को न्याय मिलेगा. इसका स्वागत करते हैं.मगर प्रधानमंत्री से सवाल है कि बच्चियों को इंसाफ कब और कैसे मिलेगा?’

asifaa1

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक पत्र की एक कॉपी ब्रिटेन में भारतीय हाई कमिशन को भी भेजी गई है. पत्र में कठुआ गैंग रेप केस, उन्नाव गैंगरेप केस को लेकर भी सवाल किया गया. पीएम से पूछा गया है कि जब अब ब्रिटेन पहुंचे तो भारत की बात सबके साथ करें. आप हमें उन असाधारण उपायों के बारे में बता सकते हैं जो पर्याप्त नहीं है.

पत्र में NISAU, ऑक्सफोर्ड इंडिया सोसायटी, केसीएल इंडिया सोसायटी, LSE SU इंडिया सोसायटी, वॉरविक इंडियन सोसायटी, भारत परिवार UoB, इंडियन सोसायटी, इंपीरियल कॉलेज इंडियन सोसायटी, UCL इंडिया सोसायटी, NTSU इंडियन सोसायटी, क्वीन मैरी इंडियन सोसायटी जैसी संस्थाएं शामिल हैं.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें