नई दिल्ली: देश में चीनी एप्स पर जारी प्रतिबंध के बीच कश्मीर के एक युवा MBA स्टूडेंट ने फाइल शेयरिंग ऐप बनाया है। जो चीनी एप SHAREit का अलटरनेटिव है। इस एप को फाइलशेयर टूल (FileShare Tool) नाम दिया गया है।एप को गूगल प्ले स्टोर से फ्री में डाउनलोड किया जा सकता है।

इस ऐप को टीपू सुल्तान वानी ने बनाया है, जो कि कश्मीर के बडगाम जिले के सेंट्रल एरिया चदोरा के रहने वाले हैं। उनका दावा है कि ऐप फाइल ट्रांसफर के मामले में शेयरइट से तेज है। यहां पर फाइल शेयरिंग की कोई लिमिट नहीं है। मूवीज, म्यूजिक, फोटोज, ऐप्स, डॉक्यूमेंट्स, ऑडियोज आदि को आसानी से शेयर किया जा सकता है।

वानी के अनुसार इसकी फाइल शेयरिंग स्पीड 40 एमबी पर सेकंड है जो कि शेयरइट से ज्यादा है। यह एप सिर्फ 5.3 एमबी का ही है। इस एप के लॉन्च होने के बाद इसे अभी तक 5 हजार से अधिक बार डाउनलोड किया गया है। गूगल प्ले स्टोर पर इस एप की यूजर रेटिंग 4.9 है।

इस फीचर का कोर ऐप Send और Receive है। इससे यूजर शेयरइट की तरह ही एक ही नेटवर्क पर म्यूजिक, वीडियो और फोटो को शेयर कर सकेंगे। हालांकि पहले फाइल शेयरिंग ऐप्स आपसे फाइल, फोटो और मीडिया फाइल्स को एक्ससे करने की इजाजत मांगेगा। इसके अलावा फोन कॉल को मैनेज करने की भी इजाजत मांगेगा। यूजर Hotspot की मदद से फाइल्स आसानी से शेयर कर सकेंगे।

Loading...
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano
विज्ञापन