कर्नाटक पुलिस का दावा – रेप का आरोपी स्वामी नित्यानंद आध्यात्मिक दौरे पर

दुष्कर्म सहित अन्य मामलों देश छोड़ फरार हुए स्वामी नित्यानंद को लेकर कर्नाटक पुलिस ने कर्नाटक हाईकोर्ट में दावा किया वह आध्यात्मिक यात्रा पर विदेश में है।

दरअसल, एक्टिविस्ट लेनिन ने एक याचिका दायर की थी जिसमें मांग की गई थी कि 2010 के रेप केस में नित्यानंद की जमानत रद्द की जाए। जिस पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने 31 जनवरी को पुलिस को नोटिस जारी किया था। नित्यानंद को नोटिस तामील न करा पाने को लेकर पुलिस ने दलील दी कि नित्यानंद आध्यात्मिक यात्रा पर विदेश में है इस वजह से उसे नोटिस नहीं तामील हो सका है।

डीएसपी बलराज इस केस के जांच अधिकारी हैं। उन्होंने कोर्ट में रिपोर्ट फाइल की है। उन्होंने कहा कि नित्यानंद की जगह उसकी सहयोगी कुमारी अर्चनानंदा को नोटिस थमाया गया है क्योंकि आरोपी नित्यानंद अपने बिदाडी आश्रम में नहीं मिलता है।

इस बीच, कुमारी अरचाहंदा ने सोमवार को पुलिस पर आरोप लगाते हुए अदालत में एक हलफनामा दायर किया और कहा कि बाद पुलिस ने उन्हें नोटिस स्वीकार करने के लिए मजबूर किया। अरचाहानंद ने कहा कि वह पहले ही साफ कर चुकी हैं कि उनके पास नित्यानंद के ठिकाने के बारे में कोई सुराग नहीं है।

बता दें कि नित्यानंद दुष्कर्म के साथ ही बच्चों के उत्पीड़न का भी आरोपी है। वह नवंबर 2018 से फरार है और कहा जा रहा है कि वह इक्वाडोर या बेलीज में जाकर कहीं छुप गया है। विदेश मंत्रालय उसका पासपोर्ट भी दो महीने पहले ही रद्द कर चुका है। इसके अलावा इंटरपोल ने भी उसके खिलाफ ब्लू कॉर्नर नोटिस जारी किया है।

नित्यानंद पर धारा 376 (बलात्कार), 420 (धोखाधड़ी), 114 (आपराधिक अभियोग), 201 (साक्ष्य मिटाना, झूठी सूचना देना), 120 बी (आपराधिक षड्यंत्र) और आईपीसी की अन्य धाराओं के तहत मुकदमे चल रहे हैं।

विज्ञापन