Monday, May 17, 2021

कन्हैया पर देशद्रोह का आरोप कुछ अफसरों के अति उत्साह का नतीजा!

- Advertisement -

जेएनयू में देशविरोधी नारों को लेकर गृहमंत्रालय के सूत्रों से ऐसी खबर आ रही है जो दिल्ली पुलिस के लिए किरकिरी का सबब बन सकता है। पीटीआई ने गृह मंत्रालय के सूत्रों से खबर दी है कि छात्रसंघ अध्य़क्ष कन्हैया कुमार ने भारत विरोधी नारेबाजी नहीं की थी।

गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक देशद्रोह के आरोप में कन्हैया की गिरफ्तारी दिल्ली पुलिस कुछ अफसरों के अति उत्साह का परिणाम हो सकती है। कन्हैया ने देशविरोधी नारेबाजी नहीं की थी।

पीटीआई के मुताबिक सुरक्षा एजेंसियों ने गृह मंत्रालय को बताया है कि कन्हैया कुमार अफजल गुरु पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल था लेकिन संभवत उसने भारत विरोधी नारे नहीं  लगाए और न ही ऐसा कुछ किया जिस पर देशद्रोह के आरोप में उसे गिरफ्तार किया जाए। एजेंसी का कहना है कि भारती विरोधी नारे सीपीआई माओस्ट से जुड़े डेमोक्रेटिक स्टूडेंट यूनियन डीएसयू ने लगाए थे।

अगर ये बात सही साबित होती है तो दिल्ली पुलिस और कमिश्नर बीएस बस्सी के लिए खासा किरकिरी का सबब बन सकती है। मीडिया के बातचीत में बस्सी कह चुके हैं कि पुलिस के पास कन्हैया के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं। इसी के आधार पर उसे गिरफ्तार किया गया है। (ibnlive)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles