Thursday, October 28, 2021

 

 

 

जमातियों को मानव बम बताने वाले कैलाश विजयवर्गीय का बेटा निकला कोरोना पॉज़िटिव

- Advertisement -
- Advertisement -

दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात के कार्यक्रम से लौटने के बाद संक्रमित पाये गए जमात के लोगों को ‘मानव बम’ बताने वाले भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और वरिष्‍ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) के छोटे बेटे कल्पेश विजयवर्गीय (Kalpesh Vijayvargiya) कोरोना पॉजिटिव (Corona positive)  पाया गया हैं।

कल्पेश विजयवर्गीय की रिपोर्ट पॉज़िटिव आने के बाद उन्हे बॉम्बे अस्पताल में भर्ती किया गया है। ऐसे में अब उनका पूरा परिवार क्‍वारंटीन हो गया है। इसके अलावा भाजपा नगर पदाधिकारी मुकेश राजावत, उनके परिवार के 11 सदस्य पॉजिटिव आए हैं। बताया जा रहा है कि कल्पेश विजयवर्गीय बीते दिनों राजस्थान के कोटा शहर गए थे। वहां से लौटने के बाद वे कोरोना पॉजिटिव हो गए।

उल्लेखनीय है कि निजामुद्दीन मरकज मामले में कैलाश विजय वर्गीय ने कहा था कि “कोरोना मरीज बनकर देश के अंदर मानव बम बनकर घूम रहे हैं।” विजयवर्गीय ने कहा था कि जिस प्रकार वहां (निजामुद्दीन मरकज) से (कोरोना वायरस से) संक्रमित होकर लोग घूम रहे हैं, वे मानव बम की तरह घूम रहे हैं। इसलिए मैं मीडिया के माध्यम से अपील करना चाहता हूं कि ऐसे लोगों को खुद को प्रशासन को सौंप देना चाहिए ताकि समाज में यह बीमारी न फैल सके।

वहीं इंदौर शहर में कोरोना वायरस संक्रमण का फैलाव जारी है। आज 258 पॉजिटिव मरीज और मिले। इस महामारी से पांच और लोगों की जान चली गई। इसे मिलाकर मौतों का कुल आंकड़ा 398 हो गया है। देर रात जारी रिपोर्ट के अनुसार आज 2731 सैंपल निगेटिव मिले हैं। आज 182 मरीजों को अस्‍पताल से डिस्‍चार्ज कर दिया गया। अभी भी 3584 मरीजों का विभिन्‍न अस्‍पतालों में उपचार चल रहा है।

इसके साथ ही शहरवासियों पर अब स्वाइन फ्लू का खतरा भी मंडराने लगा है। कोरोना के इलाज के लिए भर्ती मरीजों में स्वाइन फ्लू के लक्षण नजर आने के बाद अस्पतालों को स्वाइन फ्लू की जांच किए बगैर इसका भी इलाज करना पड़ रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles