पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी में बाल तस्करी से जुड़े बहुचर्चित मामले में पुलिस के अपराध जांच विभाग (CID) ने बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय से पूछताछ की है. बीजेपी महासचिव से ये पूछताछ इंदौर में की गई.

कोलकाता से आई आठ सदस्यीय टीम ने कैलाश विजयवर्गीय से दो घंटे तक पूछताछ की. इस दौरान उनसे 50 से ज्यादा सवाल पूछे और उनके बयान भी दर्ज किए. इससे पहले पश्चिम बंगाल सीआईडी ने 10 जनवरी को इंदौर रेंज के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजी) कार्यालय परिसर के कॉन्फ्रेंस हॉल में विजयवर्गीय से पूछताछ की थी.

बता दें कि सीआईडी ने पिछले साल बाल तस्करी के एक गिरोह का पर्दाफाश किया था, जो गोद लेने के अवैध सौदों के जरिए शिशुओं और बच्चों को कथित रूप से बेचता था. कुछ विदेशियों को भी बच्चे बेचे जाते थे. इस मामले में बीजेपी महिला मोर्चा की पश्चिम बंगाल इकाई की तत्कालीन महासचिव जूही चौधरी सहित कई लोगों को गिरफ्तार किया गया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बाल तस्करी मामले में सीआईडी ने कैलाश विजयवर्गीय से पूछे 50 सवाल

जूही चौधरी की गिरफ्तारी के बाद विजयवर्गीय का कनेक्शन सामने आया था. जूही चौधरी ने कथित रूप से बताया था कि उसने राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली के जरिए विजयवर्गीय से संपर्क किया था. जूही की गिरफ्तारी के बाद पश्चिम बंगाल सीआईडी बीजेपी की राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली से बाल तस्करी मामले में पहले ही पूछताछ कर चुकी है.

कैलाश विजयवर्गीय ने अपनी सफाई में कहा है कि सीआईडी के अधिकारी आए थे. जूही चौधरी से क्या संपर्क है, यह पूछ रहे थे. उन्हें बता दिया कि उससे कोई संपर्क नहीं हैं। उससे कहीं मुलाकात नहीं हुई. राजनीतिक द्वेषषता निकालने के लिए पश्चिम बंगाल सरकार के इशारे पर वहां की एजेंसियां इस तरह के आरोप लगा रही है.

Loading...