दिल्ली उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश जस्टिस राजेंद्र सच्चर ने सैफुल्लाह एनकाउंटर पर सवाल उठाते हुए इस पुरे मामलें की उच्च न्यायालय के न्यायाधीश से न्यायिक जाँच कराने की माँग की हैं.

जस्टिस राजेंद्र सच्चर व सोशलिस्ट पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य व महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री भाई वैद्य ने एक संयुक्त वक्तव्य में कहा कि सोशलिस्ट पार्टी लखनऊ मुठभेड़ की न्यायिक जाँच की माँग का समर्थन करती है.

दोनों वरिष्ठ समाजवादी चिंतकों ने कहा कि, “लखनऊ स्थित रिहाई मंच ने शहर के ठाकुरगंज इलाके में आतंकवाद के आरोपी सैफुल्लाह को 7 मार्च की रात को पुलिस द्वारा मुठभेड़ में मारे जाने की उच्च स्तरीय जाँच की मांग की है. इस मामले में पुलिस की कार्रवाई कई तरह के सवालों के घेरे में है जो रिहाई मंच और कई नागरिकों ने उठाये हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सोशलिस्ट पार्टी रिहाई मंच की मांग का समर्थन करती है और मांग करती है कि उत्तर प्रदेश सरकार जल्द से जल्द उच्च न्यायालय के न्यायाधीश से इस मुठभेड़ की न्यायिक जाँच कराये. पार्टी का यकीन है कि मुठभेड़ की न्यायिक जाँच से ही उठाये गए सवालों का जवाब मिल सकता है.”

Loading...