justice kolse on justice loya 1 640x317

justice kolse on justice loya 1 640x317

सोहराबुद्दीन एनकाउंटर मामले में सुनवाई कर रहे सीबीआई जज बीएच लोया की मौत का मामला अब गंभीर होता जा रहा है. बुधवार को दिल्‍ली में इस मामले में कांग्रेस की और प्रेस कांफ्रेंस कर बड़े खुलासे किये गए है.

ऐसे में अब जस्टिस लोया से जुड़े बंबई हाइकोर्ट के जज बीजी कोलसे पाटील ने भी अपनी हत्‍या की आशंका जतायी है. पाटील ने कहा है कि लोया समेत खंडालकर और थोम्‍बरे की हत्‍या की गई है, यह कोई हादसा नहीं है और अब अगला नंबर उनका है. उन्‍होंने कहा कि यह उनका आखिरी भाषण हो सकता है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने बताया कि जज लोया को सोहराबुद्दीन मामले में 100 करोड़ की रिश्वत का ऑफर था. उन पर मामले में आरोपियों को बरी करने का दबाव था. लोया के दोनों मित्र जज इस बात को लेकर मेरे पास आए थे और मैंने उन्हें वकील प्रशांत भूषण के पास भेज दिया था.

पाटिल ने कहा कि इन दोनों जजों की भी हत्या की गई है. एक को छत से नीचे फेका गया तो दूसरे को ट्रेन से. दोनों का ही पोस्टमार्टम नहीं किया गया. एक से सुसाइड नोट भी लिखवाया गया. उन्होंने कहा कि इन तीनों के बाद चौथा नंबर मेरा हो सकता है. ये मेरा आखिरी भाषण हो सकता है.

पाटिल ने केंद्र सरकार और सर्वोच्च न्यायालय के बीच सांठगांठ होने का आरोप लगाते हुए कहा कि अगर 2019 में मोदी सत्ता में वापसी करते हैं तो देश में लोकतंत्र ख़त्म हो जाएगा. उन्होंने कहा कि न्यायपालिका की आखों पर कोई पट्टी नहीं है बल्कि पट्टी हमारी आखों पर बंधी है कि हमें कुछ दिखाई नहीं दे रहा है.