justice ap shah

justice ap shah

सोहराबुद्दीन फर्जी एनकाउंटर मामले की सुनवाई कर रहे विशेष सीबीआई अदालत के जज ब्रजगोपाल हरकिशन लोया की रहस्यमय मौत को लेकर जांच की मांग उठने लगी है.

लोया के परिजनों के बाद अब दिल्ली उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश अजीत प्रकाश शाह ने उनकी मौत जांच की मांग उठाई है. ‘द वायर’ को दिए एक इंटरव्यू में जस्टिस शाह ने कहा कि हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश या सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को ख़ुद ये निर्णय करना होगा कि इस मामले में जांच की ज़रूरत है या नहीं, क्योंकि इन आरोपों की जांच न हुई तो न्यायापालिका पर कलंक लग जाएगा.

ध्यान रहे द कारवां पत्रिका की एक रिपोर्ट में लोय के के परिवार वालो ने लोया की मौत पर गंभीर सवाल उठाए थे. दिसंबर 2014 में एक साथी की बेटी की शादी में शामिल होने के महाराष्ट्र के नागपुर पहुंचे थे. इस दौरान उनकी दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई.

लोया अपनी मौत के समय मुंबई में विशेष सीबीआई अदालत के जज थे. जो वर्तमान बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और गुजरात के कई वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के ख़िलाफ़ सोहराबुद्दीन मुठभेड़ मामले की सुनवाई कर रहे थे.

इस सबंध में उनके परिजानो का आरोप है कि जज लोया को इस मामले में ‘अनुकूल’ फैसला देने के एवज में उस समय बॉम्बे हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस मोहित शाह द्वारा 100 करोड़ रुपये की रिश्वत का प्रस्ताव दिया गया था. ऐसे में परिजनों का आरोप है कि जस्टिस लोया के ना करने पर उनकी हत्या कर दी गई.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?