सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मार्कंडेय काटजू ने पूर्व सीजेआई रंजन गोगोई और उनके दामादों को सवालों के कठघरे में खड़ा कर एक बार फिर से न्यायपालिका में भ्रष्टाचार के होने का इशारा किया है। उनके निशाने पर पूर्व सीजेआई रंजन गोगोई और उनके दामाद रहे।

उन्होने ट्वीट कर कहा, सीजेआई के दामाद की आय शादी से पहले कम थी जो शादी के बाद अचानक बढ़ गई। पूर्व जस्टिस ने पूर्व सीजेआई से जुड़े यौ*न शोषण के मामले में भी सवाल उठाए हैं। बता दें कि रंजन गोगोई के सीजेआई रहते यौ*न शोषण का आरोप लगाने वाली महिला को नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया था। अब महिला को फिर से बहाल कर दिया गया है।

बता दें कि महिला ने पिछले साल अप्रैल में उच्चतम न्यायालय के 22 न्यायाधीशों के आवास पर शपथ पत्र भेजकर तत्कालीन प्रधान न्यायाधीश गोगोई के खिलाफ आरोप लगाए थे। महिला ने दावा किया था कि उसका तबादला कर दिया गया और फिर सेवा से बर्खास्त कर दिया गया।

हालांकि न्यायमूर्ति एस ए बोबडे (अब प्रधान न्यायाधीश) के नेतृत्व में सुप्रीम कोर्ट की तीन सदस्यीय आंतरिक जांच समिति ने पिछले साल मई में इस मामले में तत्कालीन मुख्य न्यायाधीश (रंजन गोगोई) को क्लीनचिट दी थी।

इसी बीच मीडिया रिपोर्ट में सामने आया कि महिला ने वापस ड्यूटी ज्वाइन कर ली है और अभी छुट्टी पर गई है। उसके सभी बकाया मानदेय को भी स्वीकृत कर दिया गया है। इससे पहले दिल्ली की एक अदालत ने पिछले साल सितंबर में पुलिस की क्लोजर रिपोर्ट के बाद महिला कर्मी के खिलाफ धोखाधड़ी और आपराधिक धमकी के मामले को भी बंद कर दिया था। ह

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन