हैदराबाद में बीते दिनों वेटरनरी डॉक्टर के साथ हुए गैंग’रेप और उसकी निर्मम ह’त्या के बाद आज शुक्रवार को हैदराबाद पुलिस ने आरोपियों को क्राइम सीन पर मुठभेड़ में मा’र गिराया। इस पुलिस एनका’उंटर पर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस मार्कंडेय काटजू का बड़ा बयान आया है।

जस्टिस काटजू ने ट्वीट कर कहा है, ‘प्रकाश कदम बनाम रामप्रसाद विश्वनाथ गुप्ता की अध्यक्षता में सुप्रीम कोर्ट की एक पीठ ने यह माना कि फर्जी एनकाउंटर के मामलों में संबंधित पुलिसकर्मियों को मृत्युदंड दिया जाना चाहिए। हैदराबाद ‘एनकाउंटर’ स्पष्ट रूप से फर्जी प्रतीत होता है।’

इसके साथ ही बीजेपी नेता मेनका गांधी ने भी एनका’उंटर पर सवाल उठाए है। उन्होने कहा कि “जो भी हुआ, बहुत भयानक हुआ है देश के लिए। आप कानून अपने हाथ में नहीं ले सकते। आरोपियों को कोर्ट द्वारा सजा दी जानी चाहिए थी। मेनका गांधी ने कहा कि यदि आप अपराधियों को बिना ट्रायल किए इस तरह मार देंगे तो फिर अदालतों, कानून और पुलिस की क्या जरुरत है?”

हैदराबाद पुलिस के अनुसार शुक्रवार को वह गैंगरेप आरोपियों को क्राइम सीन रिक्रिएट करने के लिए मौके पर लेकर गयी थी। पुलिस की मानें तो  इसी क्रम में आरोपियों ने मौके से भागने का प्रयास किया, जिसके बाद पुलिस ने चारों आरोपियों का  एनकाउंटर कर दिया।

हालांकि राज्यसभा में सपा सांसद जया बच्चन ने एनका’उंटर का समर्थन करते हुए कहा कि देर आये। दुरुस्त आये। जया बच्चन के अलावा कई अन्य लोगों ने भी हैदराबाद पुलिस का समर्थन किया है।

विज्ञापन