नई दिल्ली: विवादित सलाफी प्रचारक जाकिर नाईक के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को एक बार फिर फजीहत झेलनी पड़ी है. प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट के अपीलीय ट्रिब्यूनल के चेयरमैन जस्टिस मनमोहन सिंह ने  जाकिर के मामले में ईडी को कड़ी फटकार लगाई है.

दरअसल, ईडी ने जाकिर की अटेच संपति को अपने कब्जे में लेने की मांग की थी. जिसे जस्टिस मनमोहन सिंह ने  ईडी के कब्‍जे में देने से मना कर दिया और कहा कि ‘मैं ऐसे 10 बाबाओं के नाम बता सकता हूं जिनके पास 10 हजार करोड़ रुपये से ज्‍यादा की संपत्ति है और उन पर आपराधिक मामले चल रहे हैं. क्‍या आपने उनमें से एक के खिलाफ भी कार्रवाई की?

जस्टिस मनमोहन सिंह ने बलात्कारी आसाराम का हवाला देते हुए कहा कि आपने आसाराम बापू के खिलाफ क्‍या किया?’ उन्होंने कहा, ईडी ने पिछले 10 साल में आसाराम की संपत्ति जब्‍त करने को लेकर कोई कार्रवाई नहीं की लेकिन नाईक के मामले में काफी तेजी से काम करती दिख रही है.

उन्होंने जाकिर के खिलाफ दायर की गई चार्जशीट पर गंभीर सवाल खड़े कर दिए. उन्होंने  ईडी के वकील से पूछा कि जब चार्जशीट में ही तय अपराध नहीं बताए गए हैं तो फिर संपत्ति को जब्‍त करने का आधार क्‍या है.

वकील ने कहा कि नाईक ने युवाओं को अपने भाषणों के जरिए उकसाया है. इस पर जस्टिस सिंह ने बताया कि ईडी ने कोई भी प्रथम दृष्‍टया  सबूत या किसी भी भ्रमित युवक का बयान पेश नहीं किया है कि किस तरह से नाईक के भाषणों से युवक अवैध कामों में गए.

जस्टिस सिंह ने कहा, ‘क्‍या आपने किसी का बयान दर्ज किया कि वे कैसे इन भाषणें से प्रभावित हुए? आपकी चार्जशीट में तो यह भी दर्ज नहीं है कि 2015 ढाका आतंकी हमले में इन भाषणों की क्‍या भूमिका थी.’ बाद में जज ने कहा कि ऐसा लगता है कि ईडी ने अपनी सुविधा के हिसाब से  99 प्रतिशत भाषणों को नजरअंदाज कर दिया और केवल एक प्रतिशत पर विश्‍वास जताया.

ईडी के वकील से जज ने कहा, ‘आपने वो भाषण पढ़ें जो चार्जशीट में शामिल हैं? मैंने ऐसे बहुत से भाषण सुने हैं और मैं आपको कह सकता हं कि अभी तक मुझे कुछ भी आपत्तिजनक नहीं मिला है.’ इसके बाद ट्रिब्‍यूनल ने यथास्थिति बनाए रखने का आदेश दिया और ईडी को चेन्‍नई में स्‍कूल व मुंबई में एक वाणिज्यिक संपत्ति का कब्‍जा लेने से रोक दिया.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?