jnu

jnu

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के लापता छात्र नजीब अहमद का देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी सीबीआई डेढ़ साल से ज्यादा का वक्त गुजर जाने का बाद भी अब तक कोई सुराग नहीं लगा पाई. इसको लेकर सोमवार को जेएनयू छात्रो ने सीबीआई मुख्यालय पर जमकर प्रदर्शन किया.

इस प्रदर्शन में जेएनयू के छात्र-छात्राओं के साथ नजीब के परिजन भी शामिल हुए. प्रदर्शनकारी छात्र दिल्ली पुलिस और सीबीआई के खिलाफ नारेबाजी करते रहे. प्रदर्शन में शामिल जेएनयू छात्र संघ की पूर्व उपाध्यक्ष शेहला राशिद ने कहा कि नजीब को तलाश करने की बजाय अब आतंकी संगठन आईएसआईएस से जोड़कर बदनाम करने की साजिश की जा रही है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने कहा, कुछ लोग नजीब को लेकर गलत खबरें फैला रहे हैं. सोशल मीडिया पर यह अफवाह फैलाकर जांच की दिशा बदली जा रही है. दोपहर करीब 3 बजे शुरू हुआ ये प्रदर्शन लगभग तीन घंटे तक चला. इस दौरान प्रदर्शनकारी छात्र और पुलिसकर्मी भिड़ते नजर आए. शाम करीब 6 बजे, कुछ प्रदर्शनकारी मुख्य द्वार के सामने बैठ गए और अधिकारियों को बाहर जाने से रोक दिया. हालांकि उन्हें पुलिस ने बाद में हटा दिया.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘किसी को भी हिरासत में नहीं लिया गया है. शाम तक अधिकतर प्रदर्शनकारी हट गए थे और मौके पर थोड़े ही लोग रह गए थे.’ ध्यान रहे नजीब 15 अक्टूबर 2016 को माही-मांडवी छात्रवास से गायब हो गया था. कथित तौर पर एक दिन पहले उसके साथ एबीवीपी के छात्रों ने मारपीट की थी.