Tuesday, August 3, 2021

 

 

 

देशद्रोह मामले में नहीं चलेगा कन्हैया पर केस, दिल्ली सरकार ने दी क्लीनचिट

- Advertisement -
- Advertisement -

दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी की केजरीवाल सरकार ने जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार पर दिल्ली पुलिस को राजद्रोह का केस चलाने की अनुमति देने से इनकार कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक दिल्ली के गृह मंत्री सत्येंद्र जैन ने इस मामले में अपनी राय दी है। उनका ये कहना है कि पुलिस ने जो सबूत पेश किए हैं उससे कन्हैया कुमार, उमर खालिद समेत अन्य आरोपी छात्रों पर देशद्रोह का मुकदमा नहीं बनता है। सिटी कोर्ट में इस मामले पर 18 सितंबर को सुनवाई होनी है।

एक अधिकारी ने बताया कि एफआईआर के आधार पर आईपीसी की धारा 124ए के तहत आरोपत्र दाखिल किए गए 10 आरोपियों के खिलाफ राजद्रोह का मामला नहीं बनता है। ऐसे में सीआरपीसी की धारा 196 भी अवांछित है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि यह दो छात्र राजनैतिक गुटों का मामला था। दोनों ने एक दूसरे को उकसाने के लिए नारेबाजी की थी। जो नारे वहां लगाए गए थे, वह कन्हैया कुमार ने लगाए, यह कहीं से भी साबित नहीं हो सका है।

गृह विभाग के द्वारा तैयार किए गए नोट में लिखा गया है कि कन्हैया के द्वारा किसी प्रकार का देशद्रोही नारा नहीं लगाया गया था औऱ उसने देश की अखंडता और संप्रभुता पर कोई हमला नहीं किया था और कन्हैया के अलावा अन्य 10 आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 124 ए के तहत अभियोजन स्वीकृति का कोई मामला नहीं बनता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles